शिमला : हिमाचल प्रदेश के पर्यटन स्थल कल्पा और मनाली के आसपास की पहाड़ियों पर गुरुवार को अत्यधिक बर्फबारी हुई और मौसम कार्यालय ने 15 फरवरी तक व्यापक बारिश और बर्फबारी की संभावना जताई है।

निवासियों और पर्यटकों को ऊंची पहाड़ियों पर न जाने की सलाह दी गई है क्योंकि मनाली स्थित स्नो एंड अवलांचे स्टडी इस्टेब्लिशमेंट ने हिमस्खलन की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक, मनाली में हल्की बारिश हुई, वहीं सोलंग और कोठी जैसे इलाकों में बर्फबारी हुई।

शिमला में बदली छाई रहने के साथ शाम को बारिश या हिमपात होने की संभावना है। राज्य की राजधानी का न्यूनतम तापमान 7.2 डिग्री सेल्सियस, जबकि मनाली का 3.2 डिग्री, धर्मशाला का 6.4 डिग्री, कुफरी का 3 डिग्री और डलहौजी का 4.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

ये भी पढ़ें: बर्फ में तब्दील हुए नियाग्रा फॉल्स के नीले पानी की मनमोहक तस्वीरें

अधिकारी ने कहा, "लाहौल और स्पीति, किन्नौर, कुल्लू, शिमला, सिरमौर और चंबा जिलों में गुरुवार रात से बर्फबारी हो रही है, जबकि मध्य और निचले क्षेत्रों में बारिश हो रही है।"

यहां से लगभग 250 किलोमीटर दूर किन्नौर जिले के कल्पा में दो सेंटीमीटर और केलॉन्ग के लाहौल और स्पीति में 16 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई।

पश्चिमी विक्षोभ इस क्षेत्र में 16 फरवरी तक सक्रिय रहने की संभावना है। अधिकारी ने कहा कि उच्च पहाड़ियों में 'व्यापक रूप से बर्फबारी' होने की संभावना है, जबकि 15 फरवरी तक निचली पहाड़ियों में ओलावृष्टि की संभावना है।