नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री आश्विनी कुमार चौबे ने YSR कांग्रेस पार्टी के राज्यसभा सदस्य वी. विजय साई रेड्डी के पूछ गये सवाल का जवाब देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार की रपट के अनुसार आंध्र प्रदेश में वर्ष 2018 से लेकर अब तक स्वाइन फ्लू के 402 मामले सामने आने पर 17 मरीजों की मौत हो गई।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 में अब तक 77 लोगों में स्वाइन फ्लू के लक्षण दिखाई देने पर 4 मरीजों की मौत हुई। प्रदेश के चित्तूर और विशाखापट्नम में सर्वाधिक 169 मामले दर्ज हुये। कर्नूल जिले में 66 मामले दर्ज हुये और 6 लोग इसकी चपेट में आये।

इसे भी पढ़ेें:

आंध्र प्रदेश में स्वाइन फ्लू का तांडव, 13 लोगों की मौत

YSR कांग्रेस पार्टी के राज्यसभा सदस्य ने केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री से मायनारिटी आरक्षण को लेकर सवाल किया। इस पर आश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि मेडिकल कॉलेज प्रवेश के लिए हर एक राज्य की अपनी अपनी कार्यप्रणाली होती है और इसी प्रणाली को अमल में लाया जाता है।

सर्वोच्च न्यायालय के आदेशा नुसार ऑल इंडिया कोटा में एससी के लिए 15 प्रतिशत और एसटी को 7.5 प्रतिशत आरक्षण उपलब्ध किया जा रहा है। इसके अलावा केंद्रीय संस्थाओं में OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण मुहैया कराया जा रहा है।