मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के कुछ गांवों में पिछले दो दिन में 100 से अधिक गायों की मौत की खबर के बाद इस संबंध में जांच के आदेश दिए गए हैं। सब डिविजनल मजिस्ट्रेट विजय कुमार ने शुक्रवार को बताया कि गायों की मौत घास चरने के दौरान हुई।

ऐसा संदेह है कि गायों ने जहरीली घास खा ली थी या दूषित जल पिया था। उन्होंने बताया कि मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। राजस्व विभाग और पशुचिकित्सकों का एक दल उन इलाकों में गया है जहां गायों की मौत हुई है ताकि उनकी मौत के कारण का पता लगाया जा सके। गायों को गऊशालाओं से चरागाह लाया गया था।

इसे भी पढ़ेंः

उरी फिल्म होगी टैक्स फ्री, मंत्रियों के साथ देखेंगे योगी आदित्यनाथ

गौरतलब है कि गायों के प्रति सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ का प्रेम किसी से छिपा नहीं है। इसलिए उनके राज में किसी भी वजह से 2 दिन के भीतर 100 से भी अधिक गायों की मौत होती है तो प्रशासन के हाथ-पांव फूलना स्वाभाविक है।

देश के भीतर गायों की सुरक्षा को लेकर केंद्र की मोदी और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार बेहद ही सजग है। केंद्र और राज्य सरकारों ने गाय हत्या पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा रखा है।