बिजनौर : उत्तर प्रदेश के जिला बिजनौर में गन्ना भुगतान को लेकर किसानों तथा आजाद किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी (DM) के कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया।

किसानों का कहना है कि पुलिस व प्रशासन ने उन्हे रोका और पानी की बौछार की। उसके बाद पुलिस ने लाठियां बरसाना शुरू कर दिया। इसमें 50 से ज्यादा किसान घायल हो गए हैं जबकि 10 को हिरासत में लिया गया है।

प्रदर्शन के दौरान गन्ना भुगतान न होने से आह्त किसानों आत्महत्या करने की कोशिश भी की। प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है किसानों को आत्मदाह करने से रोका गया।

बिजनौर एवं चांदपुर चीनी मिल पर किसानों का पिछले पेराई सत्र का करीब 62 करोड़ रुपये गन्ना भुगतान बकाया है।

इसे भी पढ़ें :

उत्तर प्रदेश में हर्ष फायरिंग में दो महिलाओं की मौत, 2 गिरफ्तार

आजाद किसान यूनियन ने तीन फरवरी तक भुगतान न होने पर कलक्ट्रेट में आत्मदाह का एलान किया था। रविवार को प्रशासनिक अफसरों और किसान नेताओं के बीच वार्ता बेनतीजा रही।