नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने आज संसद में अंतरिम बजट पेश किया। बजट भाषण खत्म करने से पहले वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि यह अंतरिम बजट नहीं, बल्कि देश की विकास यात्रा है। पहली बार बजट पेश करने वाले पीयूष गोयल का बजट स्पीच लगभग 1 घंटा 45 मिनट का रहा।

- बजट के अंत में बोले पीयूष गोयल, हमारे पास निर्णायक नेतृत्व, नीयत साफ, नीति स्पष्ट और निष्ठा अटल है।

- हमारी सरकार ने विकास को जन आंदोलन बनाया, देशवासियों के जोश से बदल रहा देश ।

- यह सिर्फ अंतरिम बजट नहीं, देश के विकास यात्रा का माध्यम है, ये जो देश बदल रहा है इसका श्रेय देशवासियों को जाता है।

- यदि 6.5 लाख रुपये तक की कमाई करने वाले प्रोविडेंट फंड और अन्य इक्विटीज में निवेश करते हैं तो कोई टैक्स नहीं देना होगा।

- 40 हजार तक के ब्याज पर TDS नहीं होगा

- स्टैंडर्ड डिडक्शन को 40 हजार रुपये से बढ़ाकर 50 हजार रुपये किया गया है

- टैक्स छूट से 3 करोड़ मिडिल क्लास वालों को फायदा होगा

- टैक्स छूट में घोषणा के बाद लोकसभा में मोदी-मोदी के नारे...

-5 लाख तक सालाना आमदनी पर अब कोई टैक्स नहीं

- सैलरीड क्लास को बड़ा तोहफा: टैक्स छूट की सीमा 2.5 से बढ़ाकर 5 लाख हुई

- 2019-20 में वित्तीय घाटा जीडीपी के 3 फीसदी रहने का अनुमान

इसे भी पढ़ें :

Budget 2019 : चुनावी साल में मेहरबान हुई मोदी सरकार, जानिए अब तक की बड़ी घोषणाएं

- भारत उपग्रह प्रक्षेपण का केंद्र बना

- 2022 से पहले मिशन गगनयान पूरा करेगी सरकार

-अगले 5 साल में भारत की अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन डॉलर की होगी और हम अगले 8 साल में इसे बढ़ाकर 8 ट्रिलियन डॉलर करना चाहते हैं

- न्यू इंडिया में इलेक्ट्रिक व्हीकल में सफर करेंगे लोग

-नोटबंदी के बाद 1 करोड़ लोगों ने पहली बार टैक्स दिया। कालेधन को खत्म करके दम लेगी सरकार । नोटबंदी से भ्रष्टाचार की कमर टूटी ।

- GST में लगातार कमी से उपभोक्ताओं को 80 हजार करोड़ रुपये की राहत मिली, दैनिक उपभोग की अधिकतर वस्तुएं पर अब महज 0% से 5% टैक्स ।

-EPFO के अनुसार 2 करोड़ से अधिक लोगों को नौकरी मिली

- घर खरीदने वालों पर जीएसटी का बोझ कम करने की कोशिश, मंत्रीसमूह कर रहा है विचार।

- प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 15.56 करोड़ लाभार्थियों को 7.23 लाख करोड़ रुपये का कर्ज दिया गया

- अगले 5 साल में 1 लाख डिजिटल गांव बनेंगे

- फिल्म शूटिंग के लिए अब सिंगल विंडो की व्यवस्था

- 24 घंटे में आईटी रिटर्न की प्रोसेसिंग, टैक्स मूल्यांकन के लिए दफ्तर नहीं जाना पड़ेगा।

- मैं ईमानदार करदाताओं को धन्यवाद देता हूं

- टैक्सपेयर्स के लिए....... हमने टैक्स फाइलिंग को आसान बनाया, टैक्स कलेक्शन बढ़कर 12 लाख करोड़ हुआ।

- 34 करोड़ जनधन खाते खोले गए, आधार से बिचौलियों को हटाया गया।

- डीबीटी स्कीम सरकार की गेमचेंजर योजना, बिचौलियों को खत्म किया'

- अगले 5 साल में हम एक लाख डिजिटल विलेज बनाएंगे।

- पिछले 5 सालों में मोबाइल डेटा खर्च 50 गुना बढ़ा, मोबाइल डेटा भारत में दुनिया में सबसे सस्ता

- सभी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे ।

-श्रमिकों की न्यूनतम मासिक पेंशन 1,000 रुपये तक की गई ।

- रेलवे यात्रा सुरक्षित, ब्रॉडगेज पर सभी मानवरहित क्रॉसिंग को खत्म किया गया।

- हाईवे निर्माण भारत में सबसे तेज, हर दिन 27 किलोमीटर हाईवे का निर्माण हो रहा है।

- रक्षा बजट को बढ़ाकर 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक किया गया।

- उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ गैस कनेक्शन बांटने का लक्ष्य, 6 करोड़ परिवारों को मिल चुकी है धुएं से मुक्ति

- कम आमदनी वाले श्रमिकों को गारंटीड पेंशन देगी सरकार, 100 रुपये प्रति महीने के अंशदान पर 60 साल की आयु के बाद 3000 रुपये प्रति माह पेंशन की व्यवस्था

-पीएम श्रमयोगी मानधन योजना की घोषणा, 15 हजार रुपये तक कमाने वाले 10 करोड़ श्रमिकों को योजना का लाभ मिलेगा।

- श्रमिक की मौत पर अब 2.5 लाख रुपये की बजाय 6 लाख रुपये मुआवाजा मिलेगा।

- ग्रैच्युअटी की सीमा 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख रुपये की गई ।

- श्रमिकों का बोनस बढ़ाकर 7 हजार रुपये, 21 हजार रुपये तक के वेतन वालों को मिलेगा बोनस

- गो वंश को लेकर बजट में बड़ा ऐलान, सरकार शुरू करेगी राष्ट्रीय कामधेनु योजना, गो माता के लिए सरकार पीछे नहीं हटेगी

-21000 प्रति माह कमाने वालों को बोनस मिलेगा।

-गो वंश को लेकर बजट में बड़ा ऐलान, सरकार शुरू करेगी राष्ट्रीय कामधेनु योजना, गो माता के लिए सरकार पीछे नहीं हटेगी।

पशुपालन और मत्स्य पालन के लिए कर्ज में 2 फीसदी ब्याज छूट की घोषणा की गई है।

- मनरेगा और प्रधानमंत्री सड़क योजना के लिए घोषणा की गई।

- मछुआरों को ब्याज में 2 फीसदी की छूट की घोषणा।

पीयूष गोयल ने बजट पेश करते हुए कहा- हमारी सरकार में किसानों की आमदनी दो गुनी हुई।

पीयूष गोयल ने बजट पेश करते हुए कहा- हमारी सरकार में किसानों की आमदनी दो गुनी हुई।

पीएम किसान योजना की घोषणा: इसके तहत छोटे किसानों के (2 हेक्टयर तक मालिकाना हक रखने वाले) खाते में हर साल 6 हजार रुपये देने का फैसला किया गया है।

करीब 12 करोड़ किसान परिवारों को फायदा होगा, योजना पर सालाना 75 हजार करोड़ रुपये का खर्च, केंद्र सरकार देगी पूरा पैसा। 1 दिसंबर 2018 से लागू होगी योजना, जल्द ही पहली किश्त जारी होगी।

पीएम ने दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थकेयर प्लान को लॉन्च किया। अब तक 10 लाख बीमार लोगों का इलाज इसके तहत हो चुका है। लाखों गरीब, मिडिल क्लास को भी इसका लाभ हो रहा है। पीएम जन औषधि केंद्र में दवाइयां बहुत कम कीमतों में मिल रही हैं।

हरियाणा 22 AIIMS की स्थापना की जाएगी।

- सरकार ने दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना लॉन्च की। सौभाग्य योजना के तहत सभी घरों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दी, मार्च 2019 तक सभी घरों में बिजली कलेक्शन दिया जाएगा।

- हमने भ्रष्टाचार मुक्त सरकार चलाई, रेरा 2016 और बेनामी संपत्ति के खिलाफ कानून से रियल एस्टेट सेक्टर में पारदर्शिता आई।

- आज हर गांव को सड़क से जोड़ा जा रहा है।

- सरकार ने गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया। 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपए सस्ते अनाज पर खर्च किए। मनरेगा के लिए 60 हजार करोड़ का आवंटन किया।

- देश के संसाधनों पर पहला हक गरीबों का है। स्वच्छ भारत अभियान राष्ट्रीय आंदोलन बना। 5 लाख से अधिक गांव खुले में शौच से मुक्त हुए ।

-पीयूष गोयल ने कहा- बैंकिंग व्यवस्था को सुधारने के लिए ऐतिहासिक कदम उठाए। आज बड़े उद्योगपतियों को भी लोन वापस करना पड़ता है। पिछले 5 साल में कई योजनाएं शुरू की गई ।

-महंगाई 10.1 फीसदी से घटकर 2.12 फीसदी पर आ गई है। हमारी सरकार में दम था कि हम रिजर्व बैंक को कहें कि वह बैड लोन को देखे और उसे ठीक करे।

-भारत आज दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है। हमारी सरकार ने देश में भ्रष्टाचार को खत्म किया है ।

- पीयूष गोयल ने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुना करना लक्ष्य। मैं गर्व के साथ कह सकता हूं भारत की अर्थव्यवस्था मजबूती के रास्ते पर है, किसानों की आमदनी दोगुनी हुई। हम न्यू इंडिया की तरफ बढ़ रहे हैं।

- हमारी सरकार 2022 तक हर किसी को घर देगी। महंगाई काबू आने से आम आदमी की बचत बढ़ी है । महंगाई दर अभी तक के निचले स्तर पर है। हमारी सरकार ने 1 करोड़ 53 लाख घर बनाए। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने देश को मजबूत सरकार दी।

मोदी सरकार आज संसद में अंतरिम बजट पेश करेगी। बजट लोकसभा में सुबह 11 बजे पेश होगा। इस बार कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल बजट की घोषणाएं करेंगे। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अंतरिम बजट 2019-20 को मंजूरी दे दी है, अब थोड़ी ही देर में संसद में बजट पेश होगा ।

संसद में नरेंद्र मोदी कैबिनेट की बैठक शुरू हो चुकी है। बजट पेश करने से पहले कैबिनेट की मंजूरी ली जाएगी।

लोकसभा में विरोधी दल के नेता कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर ये लोग कोशिश करेंगे कि पॉपुलिस्ट स्कीम की शुरुआत किया जाए। अबतक जो बजट इस सरकार ने पेश किए हैं, उससे आम लोगों को लाभ नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा कि आज केवल जुमला सामने आएगा। इन्हें लागू करने के लिए उनके पास केवल चार महीना रहेगा, वे इसे कैसे करेंगे ।

संसदीय कार्य मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि हमने अभी तक चार बजट पेश किये हैं और उनमें गरीबों का खास ध्यान रखा गया है। हमारी सरकार ने 'सबका साथ सबका विकास' के लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में पूरी कोशिश की है।

कृषि मंत्री राधामोहन सिंह का कहना है कि पिछले पांच साल में सरकार ने किसानों के लिए काफी काम किया  है।

रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि जिस तरह से सरकार ने रेलवे में निवेश बढ़ाया है, सीसीटीवी कैमरे लगाने से लेकर वाई-फाई तक, रेलवे में आगे भी निवेश निश्चित रूप से बढ़ेगा।

पीयूष गोयल वित्त मंत्रालय से निकल चुके हैं। राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद फिर वह संसद भवन पहुंचेंगे। बजट 2019-20 पेश करने से पहले कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की।

इस बीच बजट की कॉपियां संसद पहुंच चुकी हैं। कार्यवाहक वित्त मंत्री सदन में बजट में लोगों से जुड़ी घोषणाएं पढ़ेंगे।

फिलहाल पीयूष गोयल वित्त मंत्रालय पहुंच चुके हैं। बजट 2019-20 की मुद्रित प्रतियों की स्निफर डॉग द्वारा जाँच की जा रही है।

इस बार के बजट में यूनिवर्सल बेसिक इनकम के ऐलान को लेकर सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है। देश के सबसे गरीब 25% परिवारों के हरेक सदस्य को न्यूनतम तयशुदा आय (मिनिमम गारंटीड इनकम) मुहैया कराने की यह योजना अगर लागू होती है तो सरकारी खजाने पर 7 लाख करोड़ का बोझ पड़ेगा। बजट पेश होने से पहले आज संसद में केंद्रीय कैबिनेट की एक बैठक होगी।