यवतमाल (महाराष्ट्र) : महाराष्ट्र में यवतमाल जिले के एक गांव लोगों ने अपनी लंबित मांगों को लेकर आगामी लोकसभा और राज्य विधानसभा चुनावों का बहिष्कार करने का संकल्प लिया है।

जिले के महागांव तहसील के वागडा इजारा गांव के लोगों ने संकल्प लिया कि सरकार द्वारा कम फसल की उपज के लिए कृषकों को मुआवजा समेत उनकी विभिन्न मांगों को पूरा नहीं किये जाने तक आगामी चुनावों का बहिष्कार किया जायेगा।

यह भी पढ़ें :

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों का चैलेंज, गांव में लगाए चुनाव बहिष्कार के पोस्टर-बैनर

गणतंत्र दिवस पर जिले के महागांव तहसील के वागडा इजारा गांव के निवासियों द्वारा ग्राम सभा की बैठक के दौरान इस आशय का एक प्रस्ताव स्वीकार किया गया। एक स्थानीय नेता ने रविवार को बताया कि प्रस्ताव की प्रति प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस को भेजी जा चुकी है।

ग्रामीणों की यह भी मांग है कि पूर्वी महाराष्ट्र क्षेत्र के विभिन्न जिलों को मिलाकर एक अलग विदर्भ राज्य का गठन किया जाये। किसान नेता मनीष जाधव ने कहा कि बैठक में बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने भाग लिया, जिसमें यह संकल्प लिया गया कि अगर हमारी मांगें पूरी नहीं की गईं तो आगामी चुनावों का बहिष्कार किया जाएगा।