नई दिल्ली: अगर आपका डेबिट या क्रेडिट कार्ड ईएमवी चिप वाला नहीं है तो आज यानी 31 दिसंबर 2018 की डेडलाइन खत्म हो रही है। एक जनवरी से पुराने डेबिट और क्रेडिट कार्ड काम नहीं करेंगे।

इस बारे में भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से तीन साल पहले ही बैंकों को दिशानिर्देश दे दिए गए थे। जिसके मुताबिक सितंबर से बैंकों को ईएमवी चिप और पिन वाले कार्ड मुहैया कराने थे। ताकि ग्राहकों को धोखाधड़ी से बचाया जा सके।

क्या है ईएमवी से लैस कार्ड

मगर ईएमवी कार्ड्स में खास चिप होती है। जिसमें ग्राहक की जानकारियां एनक्रिप्टेड अवस्था में स्टोर होती है। जब तक आप कार्ड को मशीन में डालने के बाद पिन नहीं डाल लेते, तब तक इसे डिकोड नहीं किया जा सकता है। नए जारी कार्ड्स को आईसी कार्ड्स भी कहा जाता है। इसके बाईं तरफ आप चिप देख पाएंगे।

यह भी पढ़ें:

जाली क्रेडिट कार्ड से लगाते थे करोड़ों का चूना, 9 गिरफ्तार

इससे पहले आपके पुराने डेबिट या क्रेडिट कार्ड पर पीछे की ओर लगी काले रंग की मैग्नेटिक स्ट्रिप या चुंबकीय पट्टी लगी होती है। इसी चिप या पट्टी में खाते से जुड़ी तमाम जानकारियां उपलब्ध होती है। जब कार्ड को मशीन में डाला जाता है तो इसी चिप से जानकारियां ली जाती है। एक्सपर्ट्स की मानें तो ये तरीका सुरक्षित नहीं है।

बैंकों ने इस बारे में आधिकारिक जानकारी दी है कि अगर आप अभी भी बिना चिप वाला पुराना मैग्नेटिक कार्ड इस्तेमाल कर रहे हैं तो बैंक की शाखा में जाकर तत्काल इसे बदलवा सकते हैं।

ग्राहक को अपने साथ पासबुक ले जाना होगा। साथ ही इससे संबंधित फॉर्म भी भरना होगा। इसके अलावा आप नेट बैंकिंग के जरिए ऑनलाइन भी कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।