नई दिल्ली: भारतीय सिनेमा के मशहूर फिल्मकार मृणाल सेन का निधन हो गया है। वह 95 वर्ष के थे। खबरों के अनुसार सेन का कोलकाता के भवानीपोर स्थित उनके घर में निधन हो गया। वह लंबे समय से गंभीर बीमारियों से पीड़ित थे।

मृणाल सेन फिल्मों के साथ एक्सपेरिमेंट करते रहते थे। इसके अलावा उनकी फिल्मों में समाज के यथार्थ की छवि साफ नजर आती थी।

14 मई, 1923 को अविभाजित बंगाल के फरीदपुर कस्बे में जन्में मृणाल सेन का पहला प्यार सिनेमा नहीं साहित्य था।

इसे भी पढ़ें :

मशहूर फिल्मकार कल्पना लाजमी का निधन, ‘रूदाली’ और ‘दमन’ जैसी फिल्मों से मिली पहचान

1955 में मृणाल सेन की पहली फिल्म 'रात भोर' थी। ये फिल्म बंगाल के सुपरस्टार उत्तम कुमार की पहली फिल्म थी।

इसके बाद फिल्म 'नील आकाशेर नीचे' थी। इस फिल्म ने उन्हें स्थानीय पहचान दी और उनकी तीसरी फिल्म 'बाइशे श्रावण' ने उन्हें अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दी। उनकी ज्यादातर फिल्में बांग्ला भाषा में हैं।

मिथुन चक्रवर्ती ने 1976 में फिल्म मृगया से अपना डेब्यू किया था और जिसके लिए उन्होंने बेस्ट एक्टर का नेशनल अवॉर्ड जीता था वो मृणाल सेन ने ही बनाई थी। उन्हें भी इस फिल्म के लिए नेशनल अवॉर्ड मिला था।