करतारपुर कॉरिडोर पर पाक की शर्त, एक दिन में 500 श्रद्धालुओं को प्रवेश मिलेगा

फाइल फोटो। - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : पाकिस्तान सरकार जल्द ही भारत के सामने करतारपुर कॉरिडोर को लेकर एक प्रस्ताव भेजने की तैयारी में है। इसमें कॉरिडोर जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए कुछ शर्तें रखी हैं।पाक मीडिया के हवाले से न्यूज एजेंसी ने बताया कि बगैर परमिट के किसी भी श्रद्धालु को एंट्री की परमिशन नहीं दी जाएगी। प्रवेश के लिए पासपोर्ट भी जरूरी होगा और एक दिन में केवल 500 श्रद्धालुओं को ही प्रवेश दिया जाएगा। भारत सरकार को करतारपुर कॉरिडोर के माध्यम से अपनी प्रविष्टि से 3 दिन पहले तीर्थयात्रियों और सुरक्षा मंजूरी प्रमाणपत्र पाकिस्तान सरकार के साथ साझा करना होगा

मसौदे में और क्या क्या है शामिल

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक समझौते में यह भी प्रस्तावित है कि श्रद्दालुओं को 15 लोगों का एक ग्रुप बनाना होगा। कॉरिडोर सुबह 8 से शाम 5 बजे तक खुला रहेगा। इसके अलावा दोनों पक्ष श्रद्धालुओं के नाम, यात्रा इतिहास वाले डेटाबेस का निर्माण करेंगे। भारतीय पक्ष को अभी भी लगभग 59 पन्नों का मसौदा प्राप्त करना है।

इसे भी पढ़े : करतारपुर कॉरिडोर शिलान्यासः Pak आर्मी चीफ के साथ दिखा खालिस्तानी आतंकी

मसौदे में यह भी कहा गया है कि "पाकिस्तान प्रवेश से इंकार करने का अधिकार, प्रवास की अवधि को कम करना या परमिट दिए जाने के बावजूद किसी भी तीर्थयात्री के अपने क्षेत्र में रहने की अनुमति से इंकार कर सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि जब किसी तीर्थयात्री को सुरक्षा या अन्य उद्देश्य के लिए अवांछनीय पाया जाता है"। किसी भी विवाद की स्थिति में, "राजनयिक बातचीत के माध्यम से सौहार्दपूर्ण ढंग से इसका निस्‍तारण किया जाएगा"। कोई भी पक्ष एक महीने का नोटिस देकर किसी भी समय समझौते को समाप्त कर सकता है। यह समझौता सीमा सुरक्षा पर मौजूदा प्रतिबद्धताओं को भी प्रभावित नहीं करता है।

Advertisement
Back to Top