जयपुर : भले ही कांग्रेस पार्टी ने सचिन पायलट को मुख्यमंत्री की कुर्सी न देकर अशोक गहलोत का नायब बनाया है, लेकिन उनके तेवर मुख्यमंत्री से कम नहीं देखे जा रहे हैं। वह अपने कार्यालय को देखने जब पहुंचे तो अधिकारियों को अपने तेवर जता दिए और बता दिया कि उन्हें क्या क्या नहीं पसंद है।

ऐसा बताया जा रहा है कि सचिन पायलट का आफिस तैयार करने के बाद एक वरिष्ठ अधिकारी ने फोन करके कहा था कि आपका ऑफिस तैयार है और आप उसे देखने के लिए आ सकते हैं। फिर क्या था वह मौके पर आ धमके। लेकिन जिस जगह पर पायलट का ऑफिस बनाया गया है वह उन्हें रास नहीं आया ।

बताया जा रहा है कि उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के ऑफिस के लिए पूर्व मंत्री राजपाल सिंह शेखावत के कमरे को तैयार किया गया था, लेकिन पायलट पहले फ्लोर पर गैलरी देखकर ही वापस लौट गए। उनके हावभाव देखकर ऐसा बताया जा रहा है कि वह काफी नाखुश दिख रहे थे।

इसे भी पढ़ें :

मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ ने की किसान कर्जामाफी, तो अशोक गहलोत ने किया यह काम

पायलट, गहलोत लड़ेंगे राजस्थान विधानसभा चुनाव, दोनों हैं CM पद के दावेदार

इसके बाद वह सीधे सीएम के ऑफिस पहुंचे जहां उन्होंने एक एक करके इस ऑफिस के सभी फ्लोर को बारीकी से देखा।इतना ही नहीं, मंत्रालयों के कमरों में बिखरे सामानों को देखकर अधिकारियों की क्लास भी लगाई।

गौरतलब है कि राजस्थान में सचिन पायलट ने सोमवार को डिप्टी सीएम पद की शपथ ली है। इसके बाद वह मंगलवार को अपना कार्यालय देखने गए थे।