बीकानेर। राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए जारी मतदान के दौरान कई जगहों पर ईवीएम में खराबी के मामले सामने आ रहे हैं। बीकानेर निर्वाचन क्षेत्र से आने वाले क्रेद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल को घंटो लाइन में खड़ा रहना पड़ा। वहीं उनकी पत्नी वोटिंग कर घंटो से उनका इंतजार करती रहीं । मंत्री अर्जुन मेघवाल करीब 3 घंटे पोलिंग बूथ पर वोटिंग के शुरु होनेे का इंतजार करते रहे। बता दें कि इस वजह से कई वोटर्स के बिना मतदान किए लौटने की खबरें आ रही हैं।

इसे भी पढ़ें : नोटबंदी के बाद जीडीपी बढेगा: मेघवाल

कौन अर्जुन मेघवाल

अर्जुन मेघवाल बीकानेर के किसमिदेसार गांव के रहने वाले है। उनका जन्म एक बुनकर परिवार में हुआ था। मेघवाल के बारे में कहा जाता है कि अर्जुन मेघवाल अपने पिता के साथ बुनकर के रूप मे काम करते हुए उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी की। बीकानेर के डुंगर कॉलेज से स्नातक की पढ़ाई कंप्लीट करने के बाद उन्होंने वकालत की डिग्री हासिल की। इसके बाद वे पढाई पूरी करने के बाद उन्होंने कंपटीशन एग्जाम की तैयारी की। इस दौरान उन्हें भारत डाक एवं तार डिपार्टमेंट में ऑपरेटर की नौकरी भी की। कहा जाता है नौकरी के दौरान उन्होंने दूसरे अटेम्पट में राजस्थान राज्य प्रशासनिक सेवा का एग्जाम क्लीयर कर लिया।

2009 में पहली बार पहुंचे संसद

अर्जुन मेघवाल की राजनीतिक करियर की शुरुआत 2009 में हुई। भाजपा ने उन्हें टिकट दिया और वे सांसद बन गए। 2014 में वे दोबारा सांसद बने।