बुलंदशहर : उत्तर प्रदेश के मेरठ मंडल से जुड़े बुलंदशहर जनपद में सोमवार को कथित तौर पर गोकशी के बाद मचे बवाल में गुस्साई भीड़ ने स्याना थाने के इंस्पेक्टर की पीट पीटकर हत्या कर दी।

गुस्साई भीड़ ने इस दौरान पुलिस पर पथराव करते हुए पुलिस के कई वाहनों और चिंगरावठी पुलिस चौकी में आग लगा दी।

मामले की सूचना मिलने के बाद कई थानों की पुलिस और आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गई और हालात को काबू में करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें :

भीड़ ने युवक को पुलिस की गाड़ी से बाहर खींचकर मार डाला, मूक दर्शक बनी रही पुलिस

उधर, बुलंदहशहर में चल रहे इज्तेमा से लौट रहे कई वाहनों के फंसने से स्थिति विकट होती जा रही है।

मेरठ मंडल के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार ने इस मामले में स्याना के कोतवाल सुबोध कुमार की मौत की पुष्टि की है।

बताया जा रहा है कि इस मामले में कथित तौर पर पुलिस की गोली से भी एक युवक के घायल होने की खबर है।

आनंद ने कहा कि लोगों की शिकायत थी कि उन्हें खेत में गाय का मांस मिला है। लेकिन गांव वालों ने वह मांस ट्रैक्टर में भरकर ले आए और रोड जाम कर दिया। इसके बाद प्रदर्शन हिंसात्मक हो गया और लोग पुलिस पर पत्थर फेंकने लगे। इसके बाद पुलिस को भी लाठी चार्ज करनी पड़ी।

आनंद कुमार ने बताया कि पुलिस की गांव वालों के साथ झड़प में एक पुलिस इंस्पेक्टर की मौत हो गई। एक स्थानीय युवक सुमित को भी गोली लगी।

सुमित को मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस अब इस बात की जांच कर रही है कि गोली किसने चलाई थी।