नई दिल्ली : मिजोरम भेजे गए ब्रू शरणार्थियों के 32 परिवारों के सदस्य राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव में अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर पाएंगे। अधिकारियों ने गुरूवार को इस बारे में बताया। पिछले दो महीने में त्रिपुरा से वापसी के बाद 19 परिवारों ने मिजोरम के लुंगलाई जिले में शरण ली । इसके अलावा 11 परिवारों ने ममित जिले में और दो परिवारों ने कोलासिब जिले में पनाह ली।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि इन परिवारों में कुल 150 लोग हैं और उनमें से जो योग्य हैं, वो चुनाव में मतदान कर सकते हैं। मिजोरम में 28 नवंबर को चुनाव है।

इसे भी पढ़ें :

मिजोरम विधानसभा चुनाव : प्रचार अभियान ने पकड़ा जोर, ऐसे हो रही मतदाताओं को रिझाने की कोशिश

चुनाव आयोग ने गुरूवार को आईएएस अधिकारी आशीष कुंद्रा को मिजोरम का नया मुख्य चुनाव अधिकारी नियुक्त किया। इससे पहले एस बी शशांक सीईओ थे। नागरिक समाज समूहों ने शशांक को हटाने की मांग की थी।

त्रिपुरा के राहत शिविरों में रहने वाले ब्रू मतदाताओं को वहां से अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने की अनुमति देने पर विवाद के कारण शशांक को हटाने की मांग की जा रही थी।