विधानसभा चुनाव 2018 : मप्र में 5 करोड़ मतदाता करेंगे उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला

प्रतीकात्मक तस्वीर - Sakshi Samachar

भोपाल : मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में पांच करोड़ से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार के इस्तेमाल से उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे।

राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वी. एल. कांता राव ने बताया है कि राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए पांच करोड़ चार लाख 33 हजार 79 मतदाताओं के नाम निर्वाचन नामावली में दर्ज हैं।

इसमें 2,630,1300 पुरुष और 2,41,30,390 महिला एवं तृतीय लिंगी 1,389 मतदाता है। साथ ही 62172 सेवा मतदाता है। इस तरह कुल 5,04,95,251 मतदाता है।

कांता राव ने यह भी कहा आचार संहिता लगने के बाद छह अक्टूबर से 10 नवंबर तक नौ करोड़ 57 लाख की अवैध शराब, पांच करोड़ 45 लाख रुपये कीमत की ड्रग्स व नशीले पदार्थ, सात करोड़ 43 लाख का अवैध सोना-चांदी, 20 करोड़ 58 लाख रुपये की नगदी और छह करोड़ 39 लाख रुपये कीमत की अन्य सामग्री पकड़ी गई है।

इसे भी पढ़ें :

समय से पहले विधानसभा भंग होने के तुरंत बाद लागू होती है आचार संहिता : चुनाव आयोग

मध्य प्रदेश में भाजपा से ज्यादा कांग्रेस के आपराधिक उम्मीदवार

इस प्रकार 35 दिनों में लगभग 50 करोड़ रुपये की सोना-चांदी, अवैध शराब, नशीले पदार्थ और नगदी जब्त की गई है, जबकि विगत विधानसभा चुनाव 2013 में 27 करोड़ 61 लाख रुपये की जब्ती की कार्रवाई हुई थी।

कांता राव ने बताया कि निर्वाचन आयोग ने सात मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनैतिक दलों के लिए सात चुनाव चिन्ह और अन्य राज्यों के मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के लिए 10 चुनाव चिन्ह आरक्षित किए हैं। 84 चुनाव चिन्ह गैर मान्यता प्राप्त पंजीकृत राजनीतिक दलों को इस शर्त पर दिए गए हैं कि उनके द्वारा विधानसभा चुनाव में पांच प्रतिशत अभ्यर्थी खड़े किए जाएंगे।

Advertisement
Back to Top