दंतेवाड़ा : छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित जिला दंतेवाड़ा में दो ऐसे मतदान केंद्र बनाये गए हैं, जहां मतदान की पूरी प्रक्रिया महिला कर्मचारी संभालेंगे। ऐसा इसलिए किया गया है ताकि महिला मतदाताओं को प्रेरित किया जा सके। बता दें कि दंतेवाड़ा जिले में 271 मतदान केंद्र है।

दंतेवाड़ा और गीदम ब्लॉक के इन केंद्रों में निर्वाचन से जुड़े सभी अधिकारी- कर्मचारी महिलाएं होंगे। निर्वाचन आयोग के अनुसार दंतेवाड़ा विधानसभा की महिला मतदाताओं को मतदान करने के लिये प्रेरित करने संगवारी मतदान केंद्र बनाया जा रहा है।

जिले के गीदम एवं दंतेवाडा के दो बूथों को संगवारी मतदान केंद्र का नाम दिया गया है। इनमें गीदम तहसील के मतदान केंद्र क्रमांक 61, गीदम और दंतेवाड़ा के मतदान केंद्र क्रमांक 106 को चिन्हित किया गया है। इन दोनों संगवारी मतदान केंद्रों पर मतदान प्रक्रिया संपादन करने मतदान दल के कर्मचारी और माइक्रो आब्जर्वर केवल महिलाएं होंगी।

इसे भी पढ़ें :

सीएम की कुर्सी पर बैठ ‘मालामाल’ हुए रमन सिंह, ऐसे बढ़ती गई संपत्ति

दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने उखाड़ी पटरी, मालगाड़ी डिरेल

इसके साथ ही दिव्यांग मतदाताओं के लिये रैंप और व्हील चेयर की व्यवस्था कर दी गई है। दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं की मदद हेतु सहायक भी रहेंगे। संगवारी मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की सुविधा के लिए पेयजल-बिजली एवं शौचालय उपलब्ध है।

साथ ही सुरक्षा व्यवस्था के लिए भी महिला पुलिस कर्मचारियों को जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। संगवारी मतदान केंद्रों पर मतदान प्रक्रिया संपादित करने दलों में शामिल महिला कर्मचारियों को मतदान प्रक्रिया, मॉक पोल सहित इवीएम और वीवीपेट मशीन उपयोग संबंधी प्रशिक्षण दिया गया है। इसके अलावा सीलिंग प्रक्रिया एवं विभिन्न् प्रपत्रों को प्रतिपूरित करने विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई।