नई दिल्ली : केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने आदमखोर बाघिन अवनी को मारे जाने को लेकर महाराष्ट्र सरकार की निंदा की।

मेनका गांधी ने ट्वीट कर महाराष्ट्र के वन मंत्री सुधीर मुनगनटीवर पर हमला बोला। मेनका ने कहा, "यह कुछ नहीं बल्कि गंभीर अपराध का मामला है।" मेनका ने कहा कि वह मामले को सख्ती से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के समक्ष उठाएंगी। कई हितधारकों के आग्रह के बावजूद मुनगनटीवर बाघिन को मारने का आदेश दिया।

मेनका गांधी ने कहा, "मैं निश्चित रूप से जानवरों के प्रति संवेदना की कमी के मामले को उठाने जा रही हूं, कानूनी, राजनीतिक रूप से भी।" पांच साल की बाघिन अवनी की पहचान 'टी1' के रूप में की जाती है। अवनी ने महाराष्ट्र के विदर्भ जंगलों में आतंक मचाया हुआ था। अवनी को यवतमाल जिले के बोराती गांव के निकट शनिवार की सुबह गोली मार दी गई।

इसे भी पढ़ें:

13 लोगों को निवाला बनाने वाली नरभक्षी बाघिन की हत्या पर बवाल, उठ रहे ये सवाल

अवनी को कैमरा, ड्रोन, प्रशिक्षित खोजी कुत्तों के साथ वन विभाग अधिकारियों व खोजी दल के साथ चलाए गए तीन महीने के अभियान के बाद मारा गया। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों के मुताबिक, वन विभाग अधिकारियों को वन्यजीवों को पहले ट्रैंकुलाइज करना होता है, फिर पकड़ना होता है। लेकिन, शनिवार के अभियान के दौरान अवनी ने कथित तौर पर दल पर हमला किया, जिसके बाद उसे गोली मार दी गई।