मप्र: सुल्तानगढ़ झरने में आई बाढ़ में फंसे सभी 45 लोगों को सुरक्षित निकाला गया

फाइल फोटो। - Sakshi Samachar

भोपाल : शिवपुरी से लगभग 55 किलोमीटर दूर सुभाषपुरा थाना क्षेत्र में सुल्तानगढ़ के पास एक प्राकृतिक झरने में आई बाढ़ में फंसे सभी 45 लोगों को बचा लिया गया है।


शिवपुरी के एसपी राजेश हिंगणकर के अनुसार सभी सुरक्षित हैं। बताया जाता है कि राहत और बचाव कार्य 10 घंटे तक चला।

पुलिस अधीक्षक हिंगणकर ने जानकारी देते हुए बताया था कि, ‘‘झरने में पानी के तेज बहाव में आठ लोग बह गये।’’ उन्होंने कहा कि झरने के तेज बहाव के बीच चट्टानों पर फंसे लोगों को बाहर निकालने के प्रयास लगातार किये जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें--

पत्नी मायके से नहीं आई तो पति ने नदी में फेंक कर दी 3 बच्चों की हत्या

एक्सीडेंट नहीं सुसाइड निकला, गंगा नदी में स्कॉर्पियो गिरने का मामला ! गर्लफ्रेंड से हुआ था झगड़ा

अंधेरा होने के कारण हेलीकॉप्टर अब उड़ान नहीं भर पा रहा है। वहीं, प्रत्यक्षदर्शियों ने दावा किया कि झरने में करीब 10 से 12 लोग बहे हैं।

दरअसल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मध्य प्रदेश में शिवपुरी और ग्वालियर के सीमावर्ती क्षेत्र के मोहना स्थित सुल्तानगढ़ झरने के निकट कुछ लोग पिकनिक मनाने गए। इस दौरान झरने में अचानक बाढ़ का पानी आ गया, जिसके चलते ये हादासा हो गया।

Advertisement
Back to Top