आखिर मेरठ में क्यों हुआ अंबेडकर प्रतिमा का गंगाजल से शुद्धिकरण

अंबेडकर प्रतिमा का शुद्धिकरण करते दलित वकील - Sakshi Samachar

मेरठ : उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में दलित समुदाय के लोगों ने बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का शुद्धिकरण किया है। शुद्धिकरण किसी और वजह से नहीं बल्कि राज्यसभा सांसद और आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा के माल्यार्पण करने के कारण किया है।

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को राज्यसभा के मनोनीत सदस्य राकेश सिन्हा मेरठ आए थे। यहां पर उन्होंने बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। यह बात दलित समुदाय के लोगों को बिल्कुल अच्छी नहीं लगी।

राकेश सिन्हा के वहां से जाने के बाद लोगों ने गंगाजल से मूर्ति को नहलाया और उसका शुद्धिकरण किया। इस दौरान लोगों ने भाजपा और आरएसएस के खिलाफ नारेबाजी भी की।

लोगों का कहना है कि भाजपा और आरएसएस सिर्फ दलित का सोशल करती है, उसके कल्याण पर कोई ध्यान नहीं देता है। संघ भाजपा को सिर्फ इसलिए दलितवादी बताती है, ताकि उसे वोट मिल सके।

यह भी पढ़ें :

यूपी में अब आंबेडकर भी रंगे भगवा रंग में, दलित संगठनों ने जताई नाराजगी

“अंबेडकर की विचारधारा का अनुसरण करें दलित, स्वयंभू बाबाओं पर न करें विश्वास”

Advertisement
Back to Top