प्रेमनगरी पर बरसा इंद्रदेव का ‘कहर’, पानी-पानी हुआ ताजमहल, अब तक 800 करोड़ का नुकसान

ताजमहल परिसर में भरा पानी - Sakshi Samachar

आगरा : विश्व का सातवां अजूबा और भारत की शान कहा जाने वाला ताजमहल भी मौसम की मार से अछूता नहीं है। दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत में जारी बारिश ने कहर मचा रखा है। उत्तर प्रदेश में हालात और ज्यादा खराब हो गए हैं। ताजनगरी आगरा में लगातार हो रही बारिश से ताज परिसर पानी-पानी हो गया है।

ताज परिसर में पानी भरने से एक ओर जहां पर्यटक परेशान हैं, वहीं राजनेता इस पर भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं। सभी ने अब सवाल उठाने शुरू कर दिए कि आखिर वहां पानी निकासी की सही व्यवस्था क्यों नहीं की गई। सुप्रीम कोर्ट ने पहले भी ताजमहल के संरक्षण को लेकर सरकार को फटकार लगाई थी।

बीते दो दिनों में हुई आगरा में बारिश से काफी नुकसान हुआ है। अब तक लगभग 800 करोड़ रुपये का नुकसान और कई संपत्ति नष्ट हो चुकी है।

यह भी पढ़ें :

यूपी में जानलेवा साबित हुई बारिश, 2 दिनों में 37 की मौत

यमुना ने पार किया खतरे का निशान, दिल्ली में जारी हुई बाढ़ की चेतावनी

गौरतलब है कि भारी बारिश से उत्तर प्रदेश में 27 लोगों की मौत हो गई और कई जगहों पर जलभराव और यातायात जाम की समस्या पैदा हो गई। उत्तर प्रदेश के मथुरा और कासगंज में क्रमश: 19 सेंटीमीटर और 18 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई। अलीगढ़ में कल से अबतक 13 सेंटीमीटर बारिश हुई है।

बारिश से जुड़ी घटनाओं में 27 लोगों की मौत हो गई जबकि 12 घायल हो गए। इनमें आगरा में पांच, मैनपुरी में चार, मुजफ्फरनगर और कासगंज में तीन-तीन, मेरठ और बरेली में दो-दो लोगों की मौत हुई। कानपुर देहात, मथुरा, गाजियाबाद, हापुड़, झांसी, रायबरेली, जलौन और जौनपुर में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से युद्ध स्तर पर बचाव और राहत कार्य चलाने के निर्देश दिए हैं।

Advertisement
Back to Top