नई दिल्ली : भोले बाबा के भक्तों का सावन का महिना शुरु हो गया है। मदिंरों और शिवालयों में भक्तों का तांता लगा हुआ है। लोग शिव की भक्ति में लीन है। संक्रांति की गणना के अनुसार पर्वतीय मूल व गोरखाली समाज का श्रावण मास प्रारंभ हो गया।

आज सावन का दूसरा सोमवार है। बाबा को खुश करने के लिए उनके भक्त शिवलिंग का दुग्ध और जल से अभिषेक कर रहे है। कहा जाता है कि सोमवार व्रत रखने से कभी दुखों का सामना नहीं करना पड़ता है।

सावन में सोमवार को व्रत करने के लाभ :

सावन में आने वाले सोमवार के दिन व्रत को करने से लंबे समय से चल रहे रोग खत्म हो जाते है। साथ ही घर में सुख और शांति बनी रहती है। कहते है अगर बाबा कि शिवलिंग पर सुगंधित तेल से अभिषेक करें तो जीवन में समृद्धि बनी रहती है। वहीं बेला के फूल से पूजन करने पर सुंदर व सुशील पत्नी मिलती है।

वहीं मीठे दूध से शिवलिंग पर अभिषेक करने से तेज दिमाग होता है। वहीं बाबा को दूर्वा चढ़ाने से उम्र बढ़ती है।

अगर आपको योग्य पुत्र की प्राप्ति करनी है तो आपको धतूरे के फूल से शिवजी की पूजा करनी चाहिए। शक्कर मिले दूध से भगवान शिव का अभिषेक करने से तेज दिमाग की प्राप्ति होती है।

कहा जाता है कि इस दिन भगवान शिव का व्रत और पूजा करने से घर की स्त्रियां स्वस्थ रहती हैं। इसके साथ ही धन का भी लाभ होता है।

ये भी पढ़ें---

सोमवार व्रत रखने से इन परेशानियों से मिलेगी मुक्ति, जानिए पूजन विथि और महत्व