मप्र के 7 जिलों में औसत से ज्यादा बारिश

मॉनसून की पहली बारिश (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

भोपाल : मध्य प्रदेश में मानसून की शुरुआत अच्छी हुई है। राज्य के 51 जिलों में से सात में औसत से अधिक बारिश दर्ज की गई।

राज्य के 22 जिलों में सामान्य बारिश हुई। इस तरह लगभग आधे राज्य को मानसूनी बारिश ने राहत दी।

आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, मध्य प्रदेश में इस वर्ष एक जून से नौ जुलाई तक सात जिलों में सामान्य से 20 प्रतिशत अधिक बारिश दर्ज की गई। प्रदेश के 22 जिलों में सामान्य वर्षा दर्ज हुई। कम वर्षा वाले जिलों की संख्या 20 और अल्प वर्षा वाले दो जिले हैं। अभी तक सर्वाधिक वर्षा छिंदवाड़ा जिले में 306़ 2 मिलीमीटर और सबसे कम कटनी में 53़ 1 मिलीमीटर दर्ज की गई है।

ये भी पढ़ें--

मुंबई में भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित, रेल सेवा बाधित

लगातार बारिश से मुंबई बेहाल, स्कूल-कॉलेज बंद, डब्बावाले भी नहीं देंगे सेवा

सामान्य से अधिक वर्षा छिंदवाड़ा, रतलाम, शाजापुर, मुरैना, सीहोर, रायसेन और उमरिया में दर्ज की गई है। सामान्य वर्षा वाले जिले सिवनी, मंडला, नरसिंहपुर, शहडोल, इंदौर, धार, झाबुआ, खरगोन, खंडवा, बड़वानी, बुरहानपुर, उज्जैन, मंदसौर, नीमच, देवास, आगर-मालवा, श्योपुर, भोपाल, विदिशा, राजगढ़, हरदा, और बैतूल में हुई है।

इसके अलावा जबलपुर, बालाघाट डिंडोरी, सागर, दमोह, टीकमगढ़, छतरपुर, रीवा, सिंगरौली, सीधी, सतना, अनूपपुर, अलीराजपुर, भिंड, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया और होशंगाबाद में कम वर्षा हुई। जबकि अल्प वर्षा वाले जिले कटनी और पन्ना है।

Advertisement
Back to Top