कुख्यात चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी भाजपा में शामिल, कहा- गरीबों के लिए करूंगी काम

वीरप्पन की बेटी विद्या रानी ( फोटो : ट्विटर)  - Sakshi Samachar

चेन्नई : कुख्यात चंदन तस्कर रहे वीरप्पन की बेटी विद्या रानी आज भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गई। तमिलनाडु के कृष्णगिरि जिले में उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव और पूर्व केंद्रीय मंत्री पॉन राधाकृष्णन की उपस्थिति में भाजपा का दामन थामा। वो पेशे से वकील है।

इस दौरान विद्या रानी के साथ हजारों समर्थक भी भाजपा में शामिल हुए। कार्यक्रम में पूर्व केंद्रीय मंत्री पॉन राधाकृष्णन भी मौजूद थे।


भाजपा में शामिल होने के बाद कार्यक्रम में बोलते हुए विद्या रानी ने कहा, "मैं गरीबों और वंचितों के लिए कार्य करना चाहती हूं चाहें उनका धर्म और जाति कुछ भी हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजनाएं लोगों के लिए हैं और मैं उन्हें लोगों तक ले जाना चाहती हूं।"

विद्या ने अपने पिता के बारे में बोलते हुए कहा कि उनके पिता के रास्ता जरूर गलत था, लेकिन उन्होंने हमेशा गरीबों के बारे में ही सोचा।

कौन था वीरप्पन

वीरप्पन के बारे में तरह तरह की कहानियां आज भी लोगों के जेहन में है। 18 अक्टूबर 2004 को वीरप्पम को पुलिस ने मार गिराया था। 18 जनवरी 1952 को जन्मे वीरप्पन के बारे में कहा जाता है कि उसने 17 साल की उम्र में पहली बार हाथी का शिकार किया था।

इसे भी पढ़ें :

वीरप्पन को ढेर करने वाले IPS विजय कुमार को मिली नई जिम्मेदारी, शाह ने बनाया सलाहकार

VIDEO: वीरप्पन का ऐसे हुआ था अंत, आतंक की कहानी सुन सिहर जाएंगे आप

कहा जाता था कि उसने कुल दो हजार हाथी मारे, ताकि उनके दांतों की तस्करी की जा सके। हजारों चंदन के पेड़ काट डाले। इतना ही नहीं उन्होंने न जाने कितने लोगों की हत्या कर दी। वीरप्पन रबड़ के जूते में पैसे भर के जमीन में गाड़कर रखता था।

Advertisement
Back to Top