मुंबई : वीर सावरकर पर राहुल गांधी के बयान से शिवसेना काफी नाराज है। महाराष्ट्र में अपने सहयोगी दल कांग्रेस के इस रूख पर शिवसेना नेता संजय राउत ने तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेसियों को दिल्ली जाकर राहुल गांधी को वीर सावरकर के बारे में बताना चाहिए।

शनिवार को राहुल गांधी द्वारा कसे गए तंज ‘मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है' पर तीखी प्रतिक्रिया दी और कहा कि हिंदुत्व विचारक के प्रति श्रद्धा को लेकर कोई “समझौता” नहीं किया जा सकता।

संजय राउत ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी लिखी कुछ पंक्तिया ट्वीट की। ट्वीट में लिखा है, सावरकर माने तेज, सावरकर माने त्याग, सावरकर माने तप, सावरकर माने तत्व।

शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने ट्वीट किया, ‘‘वीर सावरकर न सिर्फ महाराष्ट्र, बल्कि पूरे देश के लिए आदर्श हैं। सावरकर का नाम राष्ट्र और स्वयं के बारे में गौरव को दर्शाता है। नेहरू और गांधी की तरह सावरकर ने भी देश के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया। ऐसे प्रत्येक आदर्श को पूजनीय मानना चाहिए। इस पर कोई समझौता नहीं हो सकता।”

यह भी पढ़ें :

गिरिराज सिंह का राहुल पर तंज, देशभक्त के लिए शुद्ध हिन्दुस्तानी रक्त चाहिए

‘भारत बचाओ’ रैली में बोले राहुल गांधी- मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, गांधी है

दिल्ली में आयोजित कांग्रेस की ‘भारत बचाओ रैली' में राहुल गांधी ने कहा था कि उनका नाम राहुल गांधी है, ‘राहुल सावरकर नहीं है' और वह सच बोलने के लिए कभी माफी नहीं मांगेंगे। भाजपा ने गांधी से उनके “रेप इन इंडिया” बयान के लिए माफी मांगने की मांग की थी।

राउत ने कहा, “हम पंडित नेहरू, महात्मा गांधी में विश्वास करते हैं। आप वीर सावरकर का अपमान न करें।” कांग्रेस महाराष्ट्र में शिवसेना की अगुवाई वाली सरकार में शामिल है।