मुंबई : महाराष्ट्र में सरकार बनाने के गतिरोध के बीच अब एक नई खबर आ रही है। इस खबर के सामने आते ही महाराष्ट्र में शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस द्वारा सरकार बनाने को लेकर राज्य में संकट के बादल छा गए हैं। शिवेसेना के भीतर उथल पुथल मचा हुआ है। इस उथल-पुथल के पीछे की जो वजह निकल कर आ रही है वो यह है कि कांग्रेस और एनसीपी के साथ गठबंधन से पार्टी के कुछ विधायक नाराज है। वे नहीं चाहते हैं कि शिवसेना- एनसीपी और कांग्रेस का गठबंधन हो।

नाराज विधायक को मनाने में जुटे मनोहर जोशी

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अनुसार नाराज विधायक किसी भी हाल में हिंदुत्‍व का मुद्दा नहीं छोड़ना चाहते हैं। कयास तो यहां तक लगाए जा रहे हैं कि पार्टी के अंदर फूट भी पड़ सकती है। हालांकि, नाराज विधायकों को मनाने की कोशिश की जा रही है। पार्टी के ही सीनियर लीडर मनोहर जोशी को इस काम में लगाया गया है। मनोहर जोशी इन 17 विधायकों को लेकर पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे से मिलने मातोश्री पहुंच गए हैं। ये सभी विधायक पश्चिम महाराष्ट्र और मराठवाड़ा क्षेत्र के हैं।

इसे भी पढ़ें

महाराष्ट्र :शरद पवार के बयान से बढ़ी शिवसेना की मुश्किलें, भाजपा के साथ गठबंधन की उठ रही मांग

शिवसेना का दावा, कहा-दिसंबर के पहले सप्ताह में बनाएंगे सरकार

नाराज विधायक नहीं चाहते पार्टी हिदुत्व का मुद्दा

सभी विधायकों का कहना है कि पार्टी हमेशा से हिंदुत्व के मुद्दे पर चली है और ऐसे में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस-एनसीपी का साथ लेना सही नहीं है। नाराज विधायक किसी भी हाल में हिंदुत्व का मुद्दा नहीं छोड़ना चाहते हैं।