महाराष्ट्र में बन गई बात, आज राज्यपाल से मिलेंगे शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी के नेता

डिजाइन फोटो  - Sakshi Samachar

मुंबई : महाराष्ट्र में शिवसेना का एनसीपी और कांग्रेस के साथ सरकार बनाना लगभग तय माना जा रहा है। आज शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी नेता राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात करेंगे। हालांकि मुलाकात का कारण किसानों के नुकसान पर बातचीत बताया गया है।

राज्यपाल से होने वाली इस मुलाकात को लेकर तीनों दलों के नेताओं ने कहा है कि यह बैठक वर्षा प्रभावित किसानों के लिए तत्काल सहायता मांगने के लिए है। इसका सरकार गठन से कोई संबंध नहीं है और न ही हम सरकार बनाने का दावा पेश करने जा रहे हैं। हालांकि राजनीतिक हलकों में इस मुलाकात को लेकर तमाम तरह की चर्चा हो रही है।

शुक्रवार को शरद पवार ने कहा कि सरकार गठन की प्रक्रिया शुरू हो गई है, जो भी सरकार बनेगी वो पांच साल तक चलेगी। पवार ने नागपुर में कहा कि मध्यावधि चुनाव की कोई आशंका नहीं है। यह सरकार बनेगी और पूरे पांच साल चलेगी। हम सभी यही आश्वस्त करना चाहेंगे कि यह सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी।

न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर बनी सहमति

शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर सहमति बन गई है। जिन मुद्दों पर सहमति बनी है उनमें किसान कर्जमाफी, फसल बीमा योजना की समीक्षा, रोजगार और छत्रपति शिवाजी महाराज और बीआर अंबेडकर स्मारक शामिल हैं। वहीं पूरे कार्यकाल के लिए शिवसेना को मुख्यमंत्री पद मिलेगा। जबकि एनपी और कांग्रेस को एक-एक डिप्टी सीएम पद दिया जाएगा। इसके अलावा शिवसेना को 14 मंत्री पद, एनसीपी को 14 और कांग्रेस को 12 मंत्री पद मिलेंगे।

सरकार बीजेपी की बनेगी

कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना जहां तीनों मिलकर सरकार बनाने की कवायद में जुटे हैं। वहीं महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने दावा किया कि उनके पास 119 विधायक है। उनके बिना राज्य में स्थिर सरकार नहीं बन सकती। उन्होंने कहा कि, भाजपा ने 105 सीटें जीती हैं। निर्दलीय विधायकों के समर्थन से हमारे पास विधायकों की संख्या 119 है। राज्य में बीजेपी के बिना सरकार नहीं बन सकती।

इसे भी पढ़ें :

शिवसेना-NCP-कांग्रेस के गठबंधन को रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई याचिका

शिवसेना का होगा CM, कल पेश करेंगे दावा,17 नवंबर को शपथ ग्रहण समारोह..!

25 सालों तक राज करेगी शिवसेना

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी राज्य में आगामी 25 सालों तक राज करेगी। मीडिया ने जब चर्चा के दौरान राउत से सीएम पद के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि सिर्फ पांच साल क्यों। हम 25 सालों तक महाराष्ट्र पर शासन करेंगे। वहीं कार्यवाहक मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस पर व्यंग्य करते हुए राउत ने कहा कि उनकी पार्टी अब यह घोषणा नहीं करेगी कि हम ही लौटेंगे, हम ही लौटेंगे, हम ही लौटेंगे।

Advertisement
Back to Top