मुंबई : महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद जारी घमासान के बीच शिवसेना ने एक बार फिर भाजपा पर तंज कसा है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि अगर शिवसेना चाहे तो महाराष्ट्र में स्थिर सरकार बना सकती है। लोगों ने 50-50 के आधार पर सरकार बनाने के लिए जनमत दिया है। लोग शिवसेना का मुख्यमंत्री चाहते हैं। मैं लिखकर कह सकता हूं कि मुख्यमंत्री हमारा होगा।

संजय राउत ने ट्वीट के जरिए भी बिना नाम लिए भाजपा पर निशाना साधा। उन्होने ने ट्विटर पर लिखा, 'साहेब! मत पालिए, अहंकार को इतना, वक्त के सागर में कई सिकंदर डूब गए।' हालांकि, इस ट्वीट में उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया गया है लेकिन शिवसेना नेता संजय राउत का इशारा साफ है कि निशाने पर भारतीय जनता पार्टी ही है।

संजय राउत ने इसके साथ ही कांग्रेस-एनसीपी पर भी तंज कसते हुआ कहा कि जिनके पास बहुमत नहीं है, वह सरकार बनाने की नहीं सोचें। भाजपा की ओर से कैबिनेट मंत्री का पद मिलने की ख़बरों पर राउत ने कहा कि हम लोग ट्रेडर नहीं हैं।संजय राउत ने कहा है कि शिवसेना अपने दम पर दो-तिहाई बहुमत जुटा सकती है।

इसे भी पढ़ें

50-50 फॉर्मूले पर अड़ी हुई है शिवसेना, उद्धव बोले- जो तय हुआ वही लेंगे, उससे कम बिल्कुल नहीं

बीजेपी से तल्खी के बीच शरद पवार से मिले संजय राउत, शुरू हुई NCP नेताओं की बैठक

दरअसल, विधानसभा चुनाव में 288 वाले महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना ने मिलकर चुनाव लड़ा था। भाजपा को 105 और शिवसेना को 56 सीटें मिलीं। शिवसेना 50-50 फॉर्मूले के आधार पर भाजपा को समर्थन देना चाहती है। शिवसेना का कहना है कि पहले ढाई साल शिवसेना का मुख्यमंत्री होना चाहिए। मंत्रिमंडल में आधे मंत्री शिवसेना के होने चाहिए।

शरद पवार से मिले थे संजय राउत

इससे पहले गुरुवार को राउत ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की थी। उन्होंने कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक शरद पवार का मार्गदर्शन ले सकते हैं तो मैं एक छोटा सा कार्यकर्ता क्यों उनका मार्गदर्शन नहीं ले सकता।