मोदी सरकार के मुरीद हुए सलमान खुर्शीद, ‘आयुष्मान योजना’ को लेकर कही यह बात

सलमान खुर्शीद - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : कांग्रेस भले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना कर रही है, मगर कांग्रेस वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद मोदी सरकार के मुरीद हो गए हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की आयुष्मान योजना की जमकर सराहना की है।

वित्त आयोग की 15वीं बैठक में मंगलवार को यहां भाग लेने आए सलमान खर्शीद ने मोदी सरकार की आयुष्मान भारत योजना की जमकर सरहाना की। उन्होंने कहा, "गरीबों के साथ ही मध्य आय वर्ग के लोगों के लिए यह इतनी शानदार योजना है कि हर किसी को इस योजना का समर्थन करना चाहिए। यह एक बहुत अच्छी योजना है, जिसे सबका सहयोग मिलना चाहिए।"

उन्होंने कहा, "अभी आयुष्मान भारत को सही तरीके से लागू नहीं किया गया है। इस पर उतना पैसा खर्च नहीं किया गया, जितना इसके लिए आवंटित किया गया था। यह एक अच्छी योजना है और हर किसी को इसकी तारीफ करनी चाहिए।"

पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद अक्सर नरेंद्र मोदी सरकार की कड़ी आलोचना के लिए जाने जाते हैं। इससे पहले खुर्शीद कांग्रेस अध्यक्ष पद पर टिपपणी करने के कारण काफी चर्चा में थे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता खुर्शीद ने फिर से राहुल गांधी को अपना नेता बताते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष बनना चाहिए।

इससे पहले कांग्रेस के चार अन्य चेहरे किसी न किसी बहाने प्रधानमंत्री मोदी या उनकी सरकार के कार्यो की तारीफ कर चुके हैं। इनमें से ज्यादातर मनमोहन सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं।

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने बीते अगस्त में प्रधानमंत्री मोदी को एक ट्वीट में तारीफ करते हुए कहा था, "मैं छह साल से दलील दे रहा हूं कि यदि नरेंद्र मोदी कोई सही काम करते हैं या सही बात कहते हैं, तब उनकी सराहना की जानी चाहिए, ताकि जब वह कुछ गलत करें, और हम उनकी आलोचना करें तब उसकी विश्वसनीयता रहे।"

इसे भी पढ़ें :

सलमान बोले- राहुल के इस्तीफे से बढ़ी कांग्रेस की मुश्किलें, हालात की हो समीक्षा

कुमारी शैलजा बोलीं- एग्जिट पोल के अनुमानों को भूल जाइये, हरियाणा में कांग्रेस बनाएगी सरकार

वहीं, थरूर से पहले एक और पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता जयराम रमेश भी तारीफ कर चुके हैं। वह भी पूर्व में कह चुके हैं, "वक्त आ गया है कि अब हम 2014 से 2019 के बीच मोदी द्वारा किए गए काम को समझें, जिसकी वजह से वह मतदाताओं के 30 प्रतिशत से अधिक वोट से वापस सत्ता में लौटे।"

वहीं कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हमेशा बुरा-भला कहने को गलत बता चुके हैं। उन्होंने कहा था कि काम का आकलन किसी व्यक्ति के आधार पर नहीं, बल्कि मुद्दों के आधार पर किया जाना चाहिए। वहीं पांच अगस्त को जब जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा था तो उसके बाद कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मोदी सरकार के फैसले की तारीफ कर चुके हैं।

Advertisement
Back to Top