मेरठ : जिहादी समूहों से खुद को खतरा बताने के बाद फायरब्रांड हिंदू नेता साध्वी प्राची ने बुधवार को कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश एक मिनी पाकिस्तान (छोटा पाकिस्तान) में बदल गया है।

उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लेने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चाहिए कि वे फतवा जारी करने वालों से सख्ती से निपटें।

उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, "अभी तक में बिना किसी भय के देश में भ्रमण करती थी, लेकिन लखनऊ में कमलेश तिवारी और मेरठ में मुकेश शर्मा की हत्या के बाद मैं आशंकित महसूस करती हूं।"

लखनऊ में 18 अक्टूबर को तिवारी की निर्मम तरीके से उनके आवास स्थित कार्यालय में हत्या कर दी गई थी।

शव परीक्षण के बाद बुधवार को खुलासा हुआ कि हिंदू समाज पार्टी के नेता को 15 बार चाकू मारा गया और चेहरे में गोली मारी गई थी।

तिवारी की मौत के बाद साध्वी प्राची ने दावा किया था कि उनकी जान का खतरा है और तिवारी की मौत के पीछे जिहादी समूहों (इस्लामी आतंकियों) का हाथ है।

इसे भी पढ़ें :

बीजेपी के मंत्री के बिगडे बोल, कहा- मायावती बिजली का नंगा तार हैं, जो छुएगा, मर जाएगा

प्रियंका गांधी पर मंत्री का विवादित बयान, कहा- सुंदर चेहरे पर वोट नहीं मिलता

हरिद्वार में पत्रकारों से रविवार को बात करते हुए उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह और उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश की सरकार से खुद के लिए सुरक्षा की मांग की थी।

जिस दिन तिवारी की हत्या हुई उसी दिन मेरठ में भी मुकेश शर्मा नाम के वकील की भी हत्या कर दी गई थी। साध्वी प्राची बुधवार को मृतक मुकेश के परिजनों से मुलाकात करने रामपुर पहुंची थीं।