अमित शाह बोले- NRC पर किया जा रहा गुमराह, सभी शरणार्थियों को मिलेगा अधिकार

अमित शाह शहर के पूर्वी किनारे साल्ट लेक क्षेत्र में  एक दुर्गा पूजा पंडाल का उद्घाटन भी करेंगे। - Sakshi Samachar

कोलकाता : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को एक सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि केन्द्र नागरिकों के राष्ट्रीय पंजी का विस्तार पश्चिम बंगाल तक करेगा, लेकिन इससे पहले सभी हिंदू, सिख, जैन और बौद्ध शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देने के लिए नागरिकता (संशोधन) विधेयक पारित किया जाएगा।

विवादास्पद राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) पर एक संगोष्ठी को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस एनआरसी के बारे में लोगों को गुमराह कर रही है।


बंगाल के लोगों को एनआरसी पर किया जा रहा गुमराह

उन्होंने कहा, ‘‘एनआरसी के बारे में बंगाल के लोगों को गुमराह किया जा रहा है... मैं सभी हिंदू, बौद्ध, सिख, जैन शरणार्थियों को आश्वस्त करता हूं कि उन्हें देश छोड़ना नहीं पड़ेगा, उन्हें भारतीय नागरिकता मिलेगी और उन्हें एक भारतीय नागरिक के सभी अधिकार मिलेंगे।''

घुसपैठियों को किया जाएगा देश से बाहर

शाह ने कहा कि सभी घुसपैठियों को देश से बाहर किया जाएगा। भाजपा अध्यक्ष ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को खत्म करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना की। जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि मुखर्जी के बलिदान के कारण ही आज पश्चिम बंगाल भारतीय गणराज्य का हिस्सा है।

इसे भी पढ़ें :

पीएम मोदी और अमित शाह पर हमले की फिराक में आतंकी, एयरबेस पर अलर्ट

कश्मीर पर नेहरू का राग अलाप रहे अमित शाह, ऐसे कर रहे 370 हटाने का समर्थन

बीजेपी और टीएमसी ने एक दूसरे पर लगाए दुग

भाजपा और तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल के सबसे बड़े उत्सव दुर्गा पूजा को लेकर एक-दूसरे पर राजनीति करने के आरोप लगाये है। केन्द्रीय गृह मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह मंगलवार को शहर के पूर्वी किनारे साल्ट लेक क्षेत्र में पहली बार बी जे ब्लॉक सामुदायिक दुर्गा पूजा का उद्घाटन करेंगे।

शाह के दुर्गा पूजा के उद्घाटन की घोषणा के बाद तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व ने भाजपा पर इस उत्सव का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया। भगवा पार्टी ने इस आरोप का जवाब देते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने 2011 में राज्य की सत्ता में आने के बाद से शहर में सभी बड़ी दुर्गा पूजाओं पर कब्जा जमा लिया है।

इसे भी पढ़ें :

और जब पीएम मोदी की पत्नी जशोदाबेन को देखते ही दौड़ पड़ीं ममता बनर्जी

तृणमूल कांग्रेस के महासचिव और राज्य के मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि अमित शाह को दुर्गा पूजा के उद्घाटन के लिए कोलकाता की यात्रा करने के बजाय दिल्ली के चितरंजन पार्क में दुर्गा पूजा का उद्घाटन करना चाहिए। भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शहरभर में दुर्गा पूजा का उद्घाटन करती हैं और इस तरह तृणमूल कांग्रेस उत्सव का राजनीतिकरण करती है।

घोष ने कहा, ‘‘यह तृणमूल कांग्रेस ही है जिसने इस उत्सव को अपनी पार्टी के कार्यक्रम में बदल दिया है। अमित शाह भाजपा प्रमुख के रूप में नहीं बल्कि केन्द्रीय गृह मंत्री के रूप में दुर्गा पूजा का उद्घाटन करेंगे।'' घोष के बयान पर जवाब देते हुए कोलकाता के महापौर फिरहाद हाकिम ने कहा कि ममता बनर्जी राज्य की मुख्यमंत्री बनने से पहले ही इस त्योहार के साथ अपने जुड़ाव के कारण दुर्गा पूजा का उद्घाटन करती रही हैं।

Advertisement
Back to Top