भोपाल : मध्य प्रदेश के हनीट्रैप मामले में जारी एसआईटी की जांच के बीच एक पूर्व मुख्यमंत्री और एक नेता के करीबी के जारी हुए वीडियो ने सियासत में हलचल ला दी है। वहीं, एसआईटी पांचों महिलाओं से पूछताछ कर रही है।

मध्य प्रदेश के हनीट्रैप मामले में एसआईटी अब भोपाल-इंदौर के बाहर इस गिरोह से जुड़े लोगों की तलाश में जुट गई है। जहां पकड़ी गई महिलाओं को इंदौर से भोपाल लाया गया, वहीं इनमें से एक महिला को सागर ले जाया गया है। उस महिला को फार्म हाउस पर ले जाकर पूछताछ की गई, जहां उसका आना-जाना था।

एक तरफ जहां एसआईटी की जांच आगे बढ़ रही है, वहीं दूसरी ओर दो वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहे हैं। एक वीडियो पूर्व मुख्यमंत्री का है तो अन्य हिंदूवादी संगठन के नेता के करीबी का बताया जा रहा है। वायरल हो रहे वीडियो में पूर्व मुख्यमंत्री को एक काफी कम उम्र की युवती के साथ अंतरंग संबंध स्थापित करते हुए दिखाया गया है। वीडियो की पुष्टि साक्षी समाचार नहीं करता है।

एक अन्य वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें उम्रदराज व्यक्ति एक युवती के साथ नजर आ रहा है। यह व्यक्ति हिंदूवादी संगठन के एक बड़े पदाधिकारी का करीबी बताया जा रहा है। ये दोनों वीडियो एक बात साबित करते है कि इन्हें पूर्व नियोजित तरीके से तैयार किया गया है। इन वीडियो में युवतियां और पुरुष साफ नजर आ रहे हैं।

ज्ञात हो कि, इंदौर पुलिस ने एटीएस की मदद से पिछले दिनों हनीट्रैप गिरोह का खुलासा किया था, इस मामले में पांच महिलाओं और एक पुरुष को गिरफ्तार किया जा चुका है। उसके बाद मामले की जांच के लिए एसआईटी बनाई गई।

यह भी पढ़ें :

MP: हनीट्रैप केस में नई कहानी आई सामने, बड़े चेहरे हो सकते है बेनकाब

ऐसी हैं मध्य प्रदेश में हनी ट्रैप करने वाली ब्यूटी क्वीन्स, अब तक 3 गिरफ्तार

एसआईटी बनने के साथ ही विवादों में आ गई, क्योंकि एसआईटी प्रमुख को कुछ घंटों में ही बदल दिया गया। इतना ही नहीं साइबर सेल द्वारा गाजियाबाद में कार्यालय के लिए किराए का मकान लिए जाने के मामले में वर्तमान पुलिस महानिदेशक वी.के. सिंह और विशेष पुलिस महानिदेशक पुरुषोत्तम शर्मा के बीच ठन गई है।

हनीट्रैप की जांच करने में लगी एसआईटी के सूत्रों का दावा है कि अब तक जो वीडियो, कॉल डिटेल आदि सामने आए हैं, वह राज्य के नेता, नौकरशाह और अन्य के गठजोड़ का खुलासा करने वाले हैं। जांच के आगे बढ़ने पर कई बड़े राज खुल सकते हैं।