पटना : बिहार विधान सभा चुनाव से पहले तेजस्वी यादव ने पार्टी का टैग लाईन निर्धारित कर दिया है। पार्टी अब पलटू चाचा भगाओ बिहार बचाओ के नारे के साथ चुनावी मैदान में जाएगी। उन्होंने कहा है लालू यादव का खून हूँ पप्पू यादव और कन्हैया मंजूर है लेकिन भाजपा और नीतीश से कोई बात नही होगी।

तेजस्वी यादव ने तो यहां तक कह दिया कि ''मुझे पप्पू यादव और कन्हैया कुमार को लेकर कोई परहेज नही है । जहाँ तक बात नीतीश कुमार भाजपा के साथ गठबंधन की बात सामने आ रही थी उसे सिरे से खारिज करते हुए कहा कि किसी भी हालत में जदयू और भाजपा मंजूर नही होगा।'' तेजस्वी के इन बातों से अटकलों का बाजार गर्म हो चुका है। कयास लगाए जा रहे हैं कि कन्हैया और पप्पू यादव को महागठबंधन में शामिल करने की कवायद अब शुरू हो गई है।

तेजस्वी ने कहा कि उन्हें सिर्फ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से परहेज है। अगर पप्पू यादव और कन्हैया महागठबंधन में आना चाहते हैं तो विचार किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें

तेजस्वी यादव ने दिया धरना तो तेजप्रताप बोले- अब आ गया है कृष्ण का अर्जुन

मीडिया को दिए बयान में तेजस्वी ने कहा कि कि नीतीश कुमार को लेकर राजद में नाराजगी है। राजद के लोग नहीं चाहते कि नीतीश महागठबंधन में आएं।

राजद पार्टी के अल्संख्यक प्रकोष्ठ की बैठक में उन्होंने साफ कहा कि मैं लालू यादव का बेटा हूं, मेरे शरीर में लालू प्रसाद का खून है। मैं भी पिता की तरह मनुवादी या साम्प्रदायिक शक्ति से कोई समझौता नहीं कर सकता। जनादेश न मानने वालों के भी मैं कभी नहीं जा सकता। मुझे कन्हैया और पप्पू यादव मंजूर हैं, लेकिन नीतीश कुमार और भाजपा कतई मंजूर नहीं।