जयपुर : राजस्थान में बसपा प्रमुख मायावती को बड़ा झटका लगा है। यहां बसपा के सभी छह विधायक सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गए, जो कि अब तक बाहर से कांग्रेस को समर्थन दे रहे थे। बसपा विधायकों ने सोमवार देर रात कांग्रेस की सदस्यता ली। रात 10:30 बजे सभी विधायक विधानसभा पहुंचे और कांग्रेस में शामिल हुए।

इन विधायकों में राजेन्द्र गुढा (विधायक, उदयपुरवाटी), जोगेंद्र सिंह अवाना (विधायक, नदबई), वाजिब अली (विधायक, नगर), लाखन सिंह मीणा (विधायक, करोली), संदीप यादव (विधायक, तिजारा) और बसपा विधायक दीपचंद खेरिया शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें :

जगन मोहन रेड्डी के पदचिन्हों पर चलने की तैयारी में अशोक गहलोत

कांग्रेस ने बनाई नई रणनीति : अनुच्छेद 371 पर पूर्वोत्तर में भाजपा को घेरेगी

विधायक जोगेंद्र सिंह अवाना ने कहा कि सभी छह विधायकों ने जरुरी कागजात सब्मिट कर दिए हैं। ढेर सारी चुनौतियां थीं। एक तरफ हम राज्य में कांग्रेस सरकार का समर्थन कर रहे हैं और दूसरी तरफ हम उनके खिलाफ संसद चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में हमने हमारे निर्वाचन क्षेत्रों के विकास और राज्य के लोगों के कल्याण को देखते हुए यह कदम उठाया है।

इसे भी पढ़ें :

राजस्थान सरकार को सचिन पायलट ने दी नसीहत, जानिए क्यों खड़े किए सवाल

मालूम हो कि कांग्रेस की सरकार पहले से ही बहुमत में थी, जबकि अब उसके पास बहुमत से छह विधायक ज्यादा हो गए हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि उन्होंने राज्य हित में फैसला किया है।