मुंबई : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार ने पाकिस्तान की तारीफ करके विवाद खड़ा कर दिया है। शरद पवार ने कहा कि मैं पाकिस्तान गया हूं और मुझे वहां बहुत सम्मान मिला है। वह रविवार को मुंबई में एक सभा संबोधित कर रहे थे, उस दौरान उन्होंने यह बयान दिया है।

शरद पवार ने कहा कि मैं पाकिस्तान गया हूं और मुझे बहुत आदर और सम्मान मिला है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी ऐसा मानते हैं कि अगर वह भारत में अपने रिश्तेदारों से नहीं मिल सकते तो उन्हें हर भारतीय को ही अपना रिश्तेदार समझना चाहिए।

शरद पवार यहीं नहीं रूके उन्होंने कहा कि लोग कहते कि पाकिस्तानियों के साथ अन्याय हो रहा है और वह खुश नहीं है, जबकि यह सही नहीं है। ऐसे बयान पाकिस्तान की वास्तविक स्थिति को जाने बगैर सिर्फ राजनीतिक फायदे के लिए दिए जा रहे हैं।

संबंधित खबरें

देश में 1977 जैसे हालात, विपक्ष को एकजुट करने के लिए तैयार हूं : शरद पवार

आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई कश्मीर में हुई, पाकिस्तान में नहीं : शरद पवार

ऐसा नहीं है कि शरद पवार का पाकिस्तान प्रेम पहली बार सामने आया है। इससे पहले भी वह इस तरह के बयान देते रहे हैं। उन्होंने कहा कि था कि सांस्कृतिक संप्रदायवाद ने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को राजनीतिक रूप से लाभ पहुंचाया है।

उन्होंने अगाह करते हुए कहा कि किसी एक समुदाय का किसी दूसरे समुदाय के खिलाफ होना देश के सामाजिक सौहार्द के लिए खतरनाक है। शरद पवार ने कहा कि सत्तारूढ़ दल सिर्फ ऐसी चीजें राजनीतिक फायदा हासिल करने के लिए ही फैला रही है।

अन्य खबरें

उत्तर भारतीयों पर दिए बयान पर घिरे संतोष गंगवार, विपक्ष ने सरकार को घेरा

गोदावरी नाव हादसा : मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा, मृतकों के परिजनों को मिलेंगे 10-10 लाख रूपये