बेंगलुरू : कर्नाटक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के खिलाफ वोक्कालिगा समुदाय के हजारों लोगों ने बुधवार को प्रदर्शन किया और उनके प्रति एकजुटता प्रकट की। समुदाय के विभिन्न संगठनों की तरफ से ‘‘राजभवन चलो' के आह्वान के बाद राज्य के विभिन्न हिस्से से प्रदर्शनकारी शहर में आए। इनमें ज्यादातर लोग वोक्कालिगा के मजबूत गढ़ पुराने मैसूरु क्षेत्र से आए।

कर्नाटक में वोक्कालिगा और लिंगायत दो प्रभावशाली समुदाय हैं। कर्नाटक के प्रभावशाली कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री शिवकुमार को प्रवर्तन निदेशालय ने कथित धनशोधन के मामले में तीन सितंबर को गिरफ्तार किया था और वह तब से एजेंसी की हिरासत में हैं। नेशनल कॉलेज मैदान से फ्रीडम पार्क तक मार्च निकाला गया और फिर प्रदर्शनकारी राजभवन की ओर बढ़े।

यह भी पढ़ें :

कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ED ने किया गिरफ्तार

डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी पर राहुल गांधी ने तोड़ी चुप्पी, कही ये बड़ी बात

प्रदर्शन को विपक्षी कांग्रेस और जद (एस) का समर्थन था। हाथों में तख्तियां, बैनर और शिवकुमार के पोस्टर लिए हुए लोगों ने भाजपा विरोधी नारेबाजी की। कानून-व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए मार्ग में हजारों पुलिसकर्मियों की तैनाती की गयी थी। हजारों लोगों के आने की संभावना को देखते हुए पुलिस ने कई जगह यातायात को दूसरी ओर मोड़ दिया था लेकिन यातायात पर असर पड़ा।

ईडी ने पूर्व मंत्री के खिलाफ अपनी जांच के मामले में शिवकुमार की बेटी ऐश्वर्या को समन किया था। उन्हें 12 सितंबर को मामले के जांच अधिकारी के सामने गवाही देने के लिए कहा गया है।