चंडीगढ़ : राहुल गांधी के कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद अगला अध्यक्ष कौन होगा इसको लेकर पिछले कुछ महीनों से पार्टी के भीतर और पार्टी के बाहर भी चर्चा जोरों पर है। हालांकि कांग्रेस पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेता पत्रों के जरिए पार्टी आलाकमान को जल्द से जल्द नया अध्यक्ष चुनने की सलाह दे चुके हैं।

इसी क्रम में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह किसी युवा नेता को पार्टी की बागडोर सौंपने की वकालत करते हुए अध्यक्ष पद के लिए किसी बड़े और नामी चेहरे की सिफारिश करते दिख रहे हैं।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए पार्टी की महासचिव और राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी वाड्रा के नाम का समर्थन किया है। कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए प्रियंका गांधी को सबसे उपयुक्त उम्मीदवार बताते हुए अमरिंदर सिंह ने कहा कि प्रियंका गांधी ही एक ऐसी नेता हैं, जो पार्टी की बागडोर बखूभी निभा सकती हैं। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने पर उन्हें देशभर में समर्थन मिलना तय है। गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद को लेकर अंतिम फैसला कांग्रेस कार्य समिति करती है।

कांग्रेस नेताओं के साथ कैप्टन अमरिंदर 
कांग्रेस नेताओं के साथ कैप्टन अमरिंदर 

राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर दुख जताने वालों में शुमार कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि देश युवा है और ऐसे में पार्टी को किसी युवा नेता की जरूरत है। उसके बाद से अध्यक्ष पद के लिए लगातार प्रियंका गांधी का नाम सबसे आगे किया जा रहा है। अमरिंदर सिंह कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ सांसद शशी थरूर के प्रियंका गांधी को अध्यक्ष पद के लिए बेहतर विकल्प बताए जाने के सवाल पर बोल रहे थे।

इसे पढ़ें :

अपने मिशन में इस तरह से जुटी हुई हैं प्रियंका गांधी, दिखेगा कांग्रेस में बड़ा परिवर्त

राहुल ने उन्नाव मामले पर कसा तंज, अगर रेप का आरोपी BJP विधायक हो तो सवाल मत पूछिए

शशि थरूर (फाइल फोटो) 
शशि थरूर (फाइल फोटो) 

शशि थरूर ने कहा था कि अध्यक्ष पद को लेकर फैसले में हो रहे विलंब से लोगों में अलग संदेश जाने का खतरा है। उन्होंने कहा कि लोगों को लगेगा कि अध्यक्ष पद को लेकर कांग्रेस नेताओं के बीच मतभेद हैं और इसिलिए वे निर्णय लेने में असमर्थ हैं। शशि थरूर के अलावा पार्टी के कुछ अन्य दिग्गज नेताओं की प्रतिक्रिया भी कुछ इसी तरह की रही है।

उन्होंने कहा कि मौजूदा स्थिति में सबसे पहले हमें पार्टी के लिए एक अंतरिम अध्यक्ष चुनना होगा या फिर किसी व्यक्ति को चुनना होगा जो फैसले ले सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी आज जिन हालातों से गुजर रही है, उसके लिए किसी युवा नेता को चुनना बेहतर फैसला साबित होगा।