नयी दिल्ली भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता स्वतंत्र देव सिंह को उत्तर प्रदेश पार्टी इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया । वह पद पर महेन्द्र नाथ पांडे का स्थान लेंगे । भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरूण सिंह की ओर से जारी बयान के मुताबिक, पार्टी ने चंद्रकांत दादा पाटिल को महाराष्ट्र प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष नियुक्त किया है । वह इस पद पर राव साहेब दानवे पाटिल का स्थान लेंगे ।

उल्लेखनीय है कि महेन्द्र नाथ पांडे को नरेन्द्र मोदी नीत नयी सरकार में कौशल विकास मंत्री बनाया गया है जबकि राव साहेब दानवे पाटिल को उपभोक्ता मामलों का राज्य मंत्री बनाया गया है । समझा जाता है कि पार्टी में ‘‘एक व्यक्ति, एक पद'' के सिद्धांत के तहत इन्हें अपने राज्य में प्रदेश अध्यक्ष के दायित्व से मुक्त किया गया है । मंगल प्रभात लोढ़ा को मुम्बई महानगर भाजपा का अध्यक्ष बनाया गया है ।

छात्र संघ चुनाव से की राजनीति की शुरुआत

स्वतंत्र देव सिंह ने अपनी राजनीति की शुरुआत छात्र संघ चुनाव से की थी। उन्होने जालौन के उरई मुख्यालय स्थित डीवीसी कालेज से छात्र संघ अध्यक्ष का चुनाव लडा लेकिन वह हार गये। उसके बाद 1986 में आरएसएस से जुड़कर स्वयंसेवक के रूप में संघ का प्रचारक का कार्य करना प्रारम्भ कर दिया। 1988-89 तक अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ए.बी.वी.पी.) में संगठन मन्त्री के रूप में कार्य भार ग्रहण किया। 1991 में भाजपा कानपुर के युवा शाखा के मोर्चा प्रभारी बने। बाद में उन्हे 1994 में बुन्देलखण्ड के युवा मोर्चा के प्रभारी के रूप में विशुद्ध राजनीतिज्ञ के रूप में राजनीति में पदापर्ण किया। 1996 में युवा मोर्चा का महामन्त्री बनाया गया। 2001 में भाजपा के युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष भी बने।

शुरुआती दौर में कर चुके हैं पत्रकारिता

स्वतंत्र देव सिंह कॉलेज से निकलने के बाद उरई में ही रहते हुए 1989 में ‘स्वतंत्र भारत’ नामक अखबार में बतौर जिला संवाददाता काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने इसमें करीब तीन साल तक काम किया। कभी स्वतंत्र देव सिंह के साथ रहे उरई के सीनियर जर्नलिस्ट के मुताबिक स्वतंत्र देव सिंह ने तब के उभरते हिंदूवादी नेता विनय कटियार का इंटरव्यू अखबार में पब्लिश करा दिया। इससे वह विनय कटियार के करीबी हो गये। 1992 में उन्होंने पूरी तरह से पत्रकारिता छोड़ दी. वह संगठन में कार्यकर्ता के रूप में उरई से झांसी आ गए।

पार्टी को दिला चुके हैं बुंदेलखंड में भारी जीत

2004 में स्वतंत्र देव सिंह बुन्देलखंड से झांसी-जालौन-ललितपुर विधान परिषद के सदस्य चुने गये व प्रदेश महामन्त्री भी बनाये गये। वह 2004 से 2014 तक दो बार प्रदेश महामन्त्री बनाये गये। इससे पहले 2010 में भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष बनाये गए बाद में 2012 में फिर महामंत्री बने और इसी पद पर रहकर 2017 में भाजपा को बुन्देलखंड क्षेत्र में भारी जीत दिलाई। 2013 में इनको पश्चिम उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाया गया था।