अहमदाबाद : कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि भाजपा, सरकारें गिराने के लिए “धन बल” और “डराने-धमकाने'' का सहारा लेती है। साथ ही दावा किया कि भगवा पार्टी कर्नाटक में भी यही कर रही है।

कर्नाटक में 13 महीने पुरानी कांग्रेस-जद (एस) की गठबंधन सरकार से दो निर्दलीय विधायकों ने समर्थन वापस ले लिया है और कांग्रेस के 13 समेत 16 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं।

राहुल गांधी ने यहां संवाददाताओं से कहा, “भाजपा जहां भी सरकार गिरा सकती है वहां धन बल या डर का इस्तेमाल करती है। पहले आपने यह गोवा में, पूर्वोत्तर में देखा और अब वह यही कर्नाटक में करने की कोशिश कर रहे हैं। यह उनके काम करने का तरीका है। उनके पास पैसा है, ताकत है और वे इसका इस्तेमाल करते हैं। यही सच्चाई है।”

उनकी पार्टी अब क्या करेगी इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “कांग्रेस सच्चाई के लिए लड़ रही है क्योंकि सच्चाई कांग्रेस को मजबूत बनाती है।''

इसे भी पढ़ें :

राहुल गांधी के ट्विटर पर फॉलोवर्स की संख्या हुई एक करोड़, बोले-अमेठी में मनाएंगे इसका जश्न

मानहानि के मामले में राहुल गांधी को 10 हजार के मुचलके पर पटना कोर्ट से मिली जमानत

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष मानहानि के एक मामले में मेट्रोपोलिटन अदालत के समक्ष पेशी के लिए यहां आए हुए थे। मानहानि का यह मामला अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक की तरफ से दायर किया गया है जिसमें भाजपा अध्यक्ष अमित शाह एक निदेशक हैं। गांधी ने खुद को निर्दोष बताया और उन्हें मामले में जमानत मिल गई।

राहुल गांधी ने देश के विभिन्न हिस्सों में उनके खिलाफ दायर मानहानि के मामलों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “दबाने, धमकाने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता। मैं डरने वाला नहीं हूं। मैं लड़ना जारी रखूंगा। यह लड़ाई संविधान, देश के भविष्य के लिए है। भ्रष्टाचार, अत्याचार के खिलाफ लड़ाई है। यह जारी रहेगी।”