मोहाली। कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। मुख्यमंत्री कैप्टन से उलझने के बाद अब सिद्धू के लिए नई मुसीबत पीछे पड़ गई है। मोहाली के फेस-3 में शरारती तत्वों ने सिद्धू के खिलाफ पोस्टर लगाए गए हैं। इन पोस्टरों में उन्होंने सिद्धू को पूछा है कि सियासत कब छोड़ रहे है।

दरअसल, लोकसभा चुनाव के प्रचार में नवजोत सिद्धू ने कहा था कि अगर राहुल गांधी अमेठी में हार जाते हैं, वे राजनीति से इस्तीफा दे देंगे। इन पोस्टरों पर लिखा गया है कि सिद्धू जो आपने वादे किया था वो कब पूरा करोगे और कब इस्तीफा दोगे यह पोस्टर किस व्यक्ति ने लगाए हैं यह अभी पता नहीं लग सका है।

कैप्टन और सिद्धू में चल रहा है कोल्डवार

यह पोस्टर ऐसे वक्त में लगाए गए हैं जब सूबे के सीएम कैप्टन अमरेंद्र के बीच शीतयुद्ध छिड़ा हुआ है। लोकसभा चुनाव के बाद कैप्टन ने पंजाब में चार सीटें हारने का ठीकरा सिद्धू के सिर पर फोड़ा था। इसके बाद सिद्धू से स्थानीय निकाय विभाग छीन लिया गया। हालांकि अपना विभाग बदले जाने के बाद उन्होंने कार्यभार नहीं संभाला। इन्हीं विवादों के बीच वह कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से नई दिल्ली में मुलाकात कर चुके हैं। सिद्धू ने राहुल गांधी को एक पत्र भी सौंपा है और पंजाब में सरकार और पार्टी के बारे में जानकारी दी है।

इसे भी पढ़ें : सिद्धू ने अमरिंदर सिंह से विवाद खत्म करने के लिए राहुल गांधी के सामने रखी ये तीन शर्त

पहले भी सिद्धू के खिलाफ लग चुके हैं पोस्टर

यह पहली बार नहीं है कि सिद्धू के खिलाफ पोस्टर वार छिड़ा है। इससे पहले भी पुलवामा हमले के बाद विवादित बयान देने के बाद सिद्धू और पाकिस्तानी जनरल कमर जावेद बाजवा की तस्वीर वाले पोस्टर लगाए गए थे। इसमें सिद्धू को दलाल बताया गया था। पोस्टरों में सिद्धू को पाकिस्तानी जनरल कमर जावेद बाजवा से गले मिलते दिखाया गया था। साथ ही बड़े अक्षरों में अंग्रेजी में लिखा गया था,