कर्नाटक में खतरे में सरकार, देवगौड़ा ने जताई मध्यावधि चुनाव की आशंका

सिद्धारमैया एवं एचडी देवगौड़ा (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

बेंगलुरु : जनता दल (एस) प्रमुख एवं पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने कर्नाटक में सत्तारूढ़ गठबंधन में बढ़ते तनावों की ओर इशारा करते हुये शुक्रवार को कहा कि निस्संदेह राज्य विधानसभा के लिए मध्यावधि चुनाव होंगे।

देवगौड़ा ने यह भी कहा कि वह यह नहीं जानते कि उनके बेटे एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस-जद(एस) सरकार कितने समय तक चलेगी और यह गठबंधन में शामिल वरिष्ठ सहयोगी पर निर्भर करता है।

उन्होंने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, ‘‘इसमें कोई संदेह नहीं है कि मध्यावधि चुनाव होंगे। वे (कांग्रेस) कह चुके हैं कि इस सरकार को पांच साल तक समर्थन देंगे। मैं सारे घटनाक्रमों और उनके व्यवहार पर नजर रख रहा हूं। हमारे लोग भी समझदार हैं और उन्हें कुछ समझाने की जरूरत नहीं है।''

देवगौड़ा का यह बयान कांग्रेस विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया के पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करने और गठबंधन से संगठन को हो रहे नुकसान से कथित तौर पर अवगत कराने के बाद आया है।

यह भी पढ़ें :

कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार पर खतरा, BJP नेताओं से मिल रहे कांग्रेसी

भाजपा नेता का दावा, कर्नाटक में कुछ दिनों की मेहमान है कांग्रेस-JDS की सरकार

देवगौड़ा की इस टिप्पणी से होने वाले नुकसान को रोकने के इरादे से कुमारस्वामी ने कहा कि उनके पिता की टिप्पणी को गलत तरह से समझा गया है। मध्यावधि चुनाव को लेकर कोई सवाल नहीं है। सरकार अपने शेष बचे चार साल के कार्यकाल को पूरा करेगी।

देवगौड़ा की टिप्प्णी पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रदेश इकाई के प्रमुख बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि मध्यावधि चुनाव की कोई जरूरत नहीं है। लोग इसे पसंद नहीं करते। उन्होंने जोर देकर कहा कि भाजपा ऐसा होने नहीं देगी और जरूरत पड़ी तो वे सरकार बनायेंगे। उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर ने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है कि देवगौड़ा ने किस संदर्भ में यह बात कही है।

Advertisement
Back to Top