नई दिल्ली : मोदी सरकार 2.0 की संसदीय परीक्षा आज से शुरू हो चुकी है। आज 17वीं लोकसभा का पहला सत्र शुरू हुआ है इस दौरान नए सांसदों की शपथ दिलाई जा रही है। पीएम नरेंद्र मोदी ने सांसद के तौर पर शपथ ली। कार्यवाहक अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार ने मोदी और अन्य सांसदों को पद की शपथ दिलाई।

प्रधानमंत्री मोदी के शपथ लेने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह और सड़क एवं परिवहन तथा राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी जैसे कुछ वरिष्ठ सांसदों ने शपथ ली।

इसी सत्र में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट भी पेश किया जाएगा और तीन तलाक जैसे कई महत्वपूर्ण विधेयकों पर सरकार आगे बढ़ेगी।

लोकसभा के सत्र से एक दिन पहले रविवार को पीएम मोदी ने सर्वदलीय बैठक बुलाकर तीन तलाक सहित कई अहम बिलों पर विपक्ष का सहयोग मांगा था।

प्रोटेम स्पीकर डॉ. वीरेंद्र कुमार इस बजट सत्र के पहले दो दिन नव निर्वाचित सांसदों को शपथ दिलाएंगे। बुधवार को नए लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव भी होगा।

निर्मला सीतारमण पेश करेंगी बजट

इसके बाद राष्ट्रपति बृहस्पतिवार को दोनों सदनों के संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगे। निर्मला सीतारमण बतौर वित्त मंत्री 5 जुलाई को केंद्रीय आम बजट पेश करेंगी।

40 दिन तक चलेगा संसद सत्र-

17वीं लोकसभा का बजट सत्र सोमवार 17 जून से शुरू हो रहा जो 26 जुलाई 2019 तक चलेगा। राज्यसभा का सत्र 20 जून को शुरू होगा और 26 जुलाई तक चलेगा। वित्त वर्ष 2019-20 का पूर्ण बजट पांच जुलाई को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करेंगी। संसद का यह सत्र 40 दिनों तक चलेगा और इसमें 30 बैठकें होंगी।

संबंधित खबर-

लोकसभा में कौन होगा कांग्रेस दल का नेता, राहुल के अलावा इन नेताओं के नाम सबसे आगे

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 20 जून को लोकसभा और राज्यसभा के संयुक्त अधिवेशन को संबोधित करेंगे जिसके बाद उनके संबोधन पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होगी।

इस नए सत्र में नरेंद्र मोदी सरकार तीन तलाक, केंद्रीय शैक्षणिक संस्थान, नागरिकता संशोधन जैसे कई अहम बिल पेश करेगी। इनमें तीन तलाक बिल पर अड़ी सरकार दूसरे कार्यकाल में भी इसे कानूनी जामा पहनाने की कोशिश करेगी। हालांकि सरकार की सहयोगी जदयू ने इस बिल का समर्थन न करने की घोषणा की है, जबकि अन्य विपक्षी दलों ने इस बिल पर अपना रुख साफ नहीं किया है।

डॉ वीरेन्द्र कुमार के बारे में

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को सात बार सांसद रहे वीरेन्द्र कुमार को लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर के रूप में शपथ दिलाई। कुमार सोमवार और मंगलवार को नवनिर्वाचित सासंदों को शपथ दिलाएंगे। बुधवार को नए लोकसभा स्पीकर की नियुक्ति के बाद उनकी भूमिका संपन्न हो जाएगी।

कुमार ने भाजपा के टिकट पर मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ से लोकसभा चुनाव जीता है। वह पहली मोदी सरकार में राज्य मंत्री थे।

प्रोटेम स्पीकर के तौर पर कुमार लोकसभा के इस सत्र की पहली बैठक की अध्यक्षता करेंगे और नवनिर्वाचित सासंदों को शपथ दिलाएंगे। लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव भी उनकी निगरानी में किया जाएगा।