ममता बनर्जी ने ईवीएम पर फोड़ा हार का ठीकरा, बीजेपी पर लगाए संगीन आरोप

ममका बनर्जी: फाइल फोटो - Sakshi Samachar

कोलकाता / नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में सियासत चुनाव बाद भी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। ममता बनर्जी ने लोकसभा में पार्टी की हार का ठीकरा पूरी तरह ईवीएम पर ठोक दिया है। उन्होंने साफ कहा कि लोकतंत्र बचाने को लेकर वे बड़े पैमाने पर अभियान चलाएंगी। साथ ही एक बार फिर से देश में बैलट पेपर के जरिए चुनाव कराने पर जोर दिया।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी पर कई संगीन आरोप भी लगाए हैं। उनके मुताबिक बीजेपी पश्चिम बंगाल में दुष्प्रचार कर रही है। ममता ने सुझाव दिया कि ईवीएम पर फैक्ट फाइंडिंग कमिटी बनाई जानी चाहिए।

ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि बीजेपी ने मीडिया और कालेधन का इस्तेमाल कर चुनावी जीत हासिल की है। वहीं बीजेपी के नेता भी ममता बनर्जी पर जमकर पलटवार किया है।

बता दें कि हाल के लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में सातों चरणों के मतदान में जमकर हिंसा हुई। यहां तक कि चुनाव आयोग को केंद्रीय बलों की तैनाती करनी पड़ी थी।

चुनावी नतीजे तो 23 मई को ही घोषित हो चुके हैं। बीजेपी पश्चिम बंगाल की 18 सीटों पर फतह के जश्न में है। वहीं टीएमसी अपनी घटती सियासी ताकत को लेकर बौखलाई हुई है। लिहाजा दोनों ही पार्टियों के बीच सियासी घमासान रुकने का नाम नहीं ले रहा है।

यह भी पढ़ें:

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी पर पीएम मोदी का बड़ा हमला, कह दी ये बड़ी बात

ममता बनर्जी के खिलाफ बीजेपी के कार्यकर्ता लाखों की संख्या में जय श्री राम के नारे वाले खत भेज रहे हैं। वहीं ममता बनर्जी भी अपने कार्यकर्ताओं को चुप नहीं बैठने की सलाह दे रही हैं। ममता ने कार्यकर्ताओं को समझाया कि वे बीजेपी के उन दफ्तरों पर कब्जा कर लें जहां पहले टीएमसी के दफ्तर हुआ करते थे।

24 परगना के नैहाटी में ममता बनर्जी ने बीजेपी कार्यालय में बने भाजपा के कमल निशान को खुद मिटाकर तृणमूल पार्टी का चिह्न बनाया।

Advertisement
Back to Top