लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रिमंडल की बैठकों समेत उनकी सभी आधिकारिक बैठकों में मोबाइल फोन के प्रयोग पर पाबंदी लगा दी है।

मुख्यमंत्री सचिवालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "मुख्यमंत्री चाहते हैं कि सभी मंत्री कैबिनेट की बैठक में शामिल मुद्दों पर अपना ध्यान केंद्रित करें। उन्हें मोबाइल फोन के कारण अपना ध्यान नहीं भटकाना चाहिए। कई मंत्री बैठकों के दौरान वाट्सअप पर आए संदेशों को पढ़ने में व्यस्त रहते हैं।"

यह निर्णय हैकिंग और इलेक्ट्रॉनिक जासूसी खतरों को भी ध्यान में रखते हुए लिया गया है। पहले मंत्रियों को मोबाइल फोन लाने की इजाजत थी, लेकिन उन्हें फोन को साइलेंट मोड पर रखना होता था।

यह भी पढ़ें :

अयोध्या में रामलला का मंदिर था, है और रहेगा : योगी आदित्यनाथ

कांग्रेस के लोग आतंकियों को बिरियानी खिलाते हैं और मोदी जी गोली : योगी आदित्यनाथ

अब उन्हें अधिकृत काउंटर पर अपना मोबाइल फोन जमा कराना होगा और इसके बदले उन्हें टोकन दिया जाएगा, जिसे दिखाकर वे बैठक समाप्त होने के बाद मोबाइल फोन वापस ले सकते हैं।

-आईएएनएस