भोपाल: मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के दौरान करारी हार के बाद कमलनाथ सरकार को गिराने की अटकलें तेज हो गई हैं। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की विधायक राम बाई ने भाजपा पर खरीद-फरोख्त का संगीन आरोप लगाया है। रमा बाई के मुताबिक उन्हें मंत्री पद के साथ ही 50 करोड़ रुपये का ऑफर पाला बदलने के लिए दिया गया है।

राज्य में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस की सरकार निर्दलीय, बसपा और सपा के विधायकों के समर्थन से चल रही है। दमोह जिले की पथरिया विधानसभा सीट से निर्वाचित बसपा विधायक राम बाई ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा, "राज्य की कमलनाथ सरकार को कोई खतरा नहीं है। मैं कमलनाथ के साथ हूं। भाजपा की ओर से लगातार ऑफर आ रहे हैं। मंत्री पद और 50 करोड़ रुपये दिए जाने की पेशकश की गई है।"

यह भी पढ़ें:

कांग्रेस में इस्तीफे का दौर जारी, राज बब्बर के बाद अब कमलनाथ ने की पेशकश

कमलनाथ सरकार को किसी तरह का खतरा न होने की बात कहते हुए राम बाई ने कहा, "भाजपा में कोई विधायक नहीं जाएगा, जो जाएगा वह मूर्ख ही होगा।"

ज्ञात हो कि इससे पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पिछले दिनों खुले तौर पर आरोप लगाया था कि कांग्रेस के 10 विधायकों को भाजपा की ओर से प्रलोभन दिए जा रहे हैं। यह बात विधायकों ने कमलनाथ को बताई थी।

230 सदस्यीय राज्य विधानसभा में कांग्रेस के 114 और भाजपा के 109 विधायक हैं। कांग्रेस की सरकार बसपा के दो, सपा के एक और चार निर्दलीय विधायकों के समर्थन से बनी है।