पटना : लोकसभा चुनाव के परिणाम से पहले बिहार के एक और नेता ने खून-खराबे की धमकी दी है। निर्दलीय लोकसभा उम्मीदवार रामचंद्र यादव ने इस बार हथियार के साथ खून-खराबे की धमकी दी है।

बक्सर में पत्रकारों से बात करते हुए निर्दलीय उम्मीदवार रामचंद्र यादव ने हथियार दिखाए और खुलेआम खून-खराबे की धमकी थी। उन्होंने यह बयान रिजल्ट से ठीक एक दिन पहले दिया है।

इससे पहले बिहार में विपक्षी महागठबंधन ने लोकसभा चुनाव के नतीजों को सत्तारूढ़ राजग के पक्ष में करने के लिए, उनसे छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए मंगलवार को चेतावनी दी कि जबरदस्त जनाक्रोश के कारण सड़कों पर खून की नदियां बह सकती हैं।

राजद के राज्य प्रमुख रामचंद्र पूर्वे, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा और महागठबंधन के अन्य नेताओं के साथ रालोसपा प्रमुख एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही थी।

यह भी पढ़ें :

Exit Polls ने बिहार में बढ़ाई BJP-JDU की दूरी, उठने लगी परिवर्तन की मांग

बिहार में महागठबंधन की धमकी, नतीजों में हुई गड़बड़ी तो बहा देंगे खून की नदियां

उन्होंने आरोप लगाया कि एग्जिट पोल का बिहार में राजग को 40 में से 30 या उससे अधिक सीटों का पूर्वानुमान गुमराह करने वाला और हमारे कार्यकर्ताओं का उत्साह भंग करने का एकमात्र उद्देश्य है।

कुशवाहा ने पत्रकारों से कहा कि पहले हम बूथ लूट के बारे में सुनते थे। इस बार, ऐसा संदेह है कि नतीजों को लूटने का प्रयास किया जा सकता है। यह ईवीएम से छेड़छाड़ या मतगणना केन्द्र पर अन्य तरह की गतिविधियों द्वारा किया जा सकता है। राजग के नेताओं को ऐसे किसी भी गलत काम में लिप्त ना होने की चेतावनी दी जाती है।

जबरदस्त जनाक्रोश से सड़कों पर खून की नदियां बह सकती हैं, जिसके लिए हम जिम्मेदार नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि एग्जिट पोल इस दिशा की ओर एक कदम प्रतीत होते हैं। हम सभी ने चुनाव के दौरान राज्य का दौरा किया है और बिना किसी हिचकिचाहट के कह सकते हैं, हम राज्य में हर एक सीट पर जीत रहे हैं। लोगों की प्रतिक्रिया महागठबंधन के पक्ष में है।