नई दिल्ली। ग्लैमर और राजनीति का जोड़ यूं तो भारत में काफी लंबे समय से चला रहा है। लेकिन लोकसभा चुना 2019 का चुनाव अंतिम दौर में है। इस बार भी कई बॉलीवुड हस्तियां राजनीति में अपनी किस्मत आजमा रही है। कई बॉलीवुड सेलेब्स ने पॉलिटिक्स ज्वाइन की है तो वहीं कुछ सितारों ने पार्टियां बदल ली हैं। आइए जानते हैं इस लिस्ट में किन- किन सितारों के नाम शामिल है।

सनी देओल पंजाब के गुरदासपुर से चुनाव लड़ रहे है।
सनी देओल पंजाब के गुरदासपुर से चुनाव लड़ रहे है।

दिग्गज अभिनेता धर्मेन्द्र के बेटे, बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। 23 अप्रैल, 2019 को केंद्रीय मंत्रियों पीयूष गोयल और निर्मला सीतारमण की मौजूदगी में सनी पार्टी में शामिल हुईं। भाजपा ने गुरदासपुर लोकसभा सीट के लिए सनी देओल को पार्टी का उम्मीदवार बनाया

उर्मिला भी मुंबई उत्तरी से चुनाव लड़ रही है।
उर्मिला भी मुंबई उत्तरी से चुनाव लड़ रही है।

उर्मिला मातोंडकर

बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर 27 मार्च, 2019 को राष्ट्रीय राजधानी में कांग्रेस में शामिल हो गईं। 'मासूम' (1983) में बाल कलाकार के रूप में प्रसिद्धि पाने वाली मातोंडकर को कांग्रेस ने अपना कैंडिडेट बनाया है। वे मुंबई उत्तरी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं। मातोंडकर का मुकाबला भारतीय जनता पार्टी के सांसद गोपाल शेट्टी से है। यह सीट जो कभी भाजपा का गढ़ माना जाती थी। मुंबई के छह लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में 29 अप्रैल को मतदान हो रहा है, साथ ही राज्य के चौथे चरण के चुनाव में 17 अन्य शामिल हैं।

नुसरतजहां
नुसरतजहां

नुसरत जहान: एक अभिनेत्री और मॉडल, वह 2019 में पहली बार चुनाव लड़ेगी। वे तृणमूल कांग्रेस की कैंडिडेट है। नुसरत ने राज चक्रवर्ती के शॉट्रू से अपनी शुरुआत की और बाद में खोखा 420 में दिखाई दी। उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा हमारी रानी से कोलकाता के मिशन स्कूल में की और फिर पूरी की। शहर के भवानीपुर कॉलेज से उसकी बी.कॉम की पढ़ाई पूरी की।

प्रकाश राज
प्रकाश राज

प्रकाश राज

अभिनेता-कार्यकर्ता प्रकाश राज, जिन्होंने 1 जनवरी को घोषणा की थी कि वह राजनीति में प्रवेश करेंगे, ने कहा कि वह एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में बेंगलुरु सेंट्रल से 2019 के आम चुनाव लड़ेंगे। अभिनेता नरेंद्र मोदी सरकार के साथ अपने आरक्षण के बारे में मुखर रहे हैं, खासकर जब से उनके करीबी दोस्त और कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश की दक्षिणपंथी सदस्यों द्वारा कथित तौर पर हत्या कर दी गई थी।

आदित्यनाथ की गोरखपुर सीट पर बीजेपी ने रविकिशन को अपना कैंडिडेट बनाया है।
आदित्यनाथ की गोरखपुर सीट पर बीजेपी ने रविकिशन को अपना कैंडिडेट बनाया है।

रविकिशन

बीजेपी (BJP) ने गोरखपुर से भोजपुरी सुपरस्टार रविकिशन को टिकट दिया है. साथ ही प्रतापगढ़ सीट से संगम लाल गुप्ता को मैदान में उतारा है। पहले उनके जौनपुर से चुनाव लड़ने की चर्चा थी लेकिन पार्टी ने उन्हे गोरखपुर लोकसभा सीट से अपना कैंडिडेट बनाया है। निरहुआ की तरह रविकिशन की भी किस्मत अंतिम चरण के मतदान के ईवीएम में कैद हो जाएगी।

शिल्पा शिंदे कांग्रेस की टिकट से चुनाव मैदान में है।
शिल्पा शिंदे कांग्रेस की टिकट से चुनाव मैदान में है।

शिल्पा शिंदे

टेलीविजन अभिनेता शिल्पा शिंदे फरवरी 2019 में कांग्रेस में शामिल हुईं। शिल्पा ने संजय निरूपम की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन की थी। शिल्पा ने कहा कि वह चुनाव लड़ने की इच्छुक थीं, लेकिन यह निर्दिष्ट नहीं किया कि यह लोकसभा या राज्य विधानसभा के लिए है, दोनों इस वर्ष के लिए निर्धारित हैं।

निरहुआ का मुकाबला अखिलेश यादव से है।
निरहुआ का मुकाबला अखिलेश यादव से है।

निरहुआ

भारतीय जनता पार्टी ने आजमगढ़ से भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' को अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ से मैदान में उतारा है। निरहुआ हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए थे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में उन्होंने पार्टी की सदस्यता ली थी। गौरतलब है कि अंतिम चरण के मतदान के दौरान निरहुआ की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई है।

मिमि चक्रवर्ती।
मिमि चक्रवर्ती।

मिमी चक्रवर्ती- मिमी चक्रवर्ती 2008 से सिनेमा में एक्टिव हैं। एक्टिंग में आने से पहले मिमी ने मॉडलिंग में भी हाथ आजमाया था। मिमी चक्रवर्ती ने तृणमूल कांग्रेस ज्वॉइन की है। मिमी जादवपुर सीट से अपनी किस्मत आजमा रही है।

हेमा मालिनी
हेमा मालिनी

हेमा मालिनी

हेमा मालिनी मथुरा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं और वो यहां से मौजूदा सांसद भी हैं। उन्होंने पिछले चुनावों में मथुरा से जयंत चौधरी को 3 लाख 30 हजार वोटों से हराया था और जीत हासिल की थी। हेमा ने साल 2004 में भाजपा में शामिल हुई थीं।एग्जिट पोल के नतीजे देखने को मिल रहे हैं उससे लग रहा है कि इस बार भी हेमा मालिनी के सर पर ही जीत का सहरा सजेगा।

मनोज तिवारी।
मनोज तिवारी।

मनोज तिवारी

बिहार के जाने-माने अभिनेता मनोज तिवारी दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष है। उनका मुकाबला इस बार दिल्ली की तीन बार सीएम रह चुकी शीला दीक्षित से है। वे इस बार उत्तरी पूर्वी दिल्ली से चुनाव लड़ रहे हैं। इससे पहले साल 2014 के चुनाव में उन्होंने सपा को छोड़कर भाजपा ज्वाइन कर लिया था। साल 2014 के दौरान मनोज तिवारी ने उत्तर पूर्वी दिल्ली चुनाव लड़ा था। वे इस मोदी लहर के दौरान वे जीत हासिल कर सफल रहे थे। मनोज तिवारी ने आप पार्टी के उम्मीदवार प्रो. आनंद कुमार को करीब सवा लाख वोटों से हराकर अपनी जीत हासिल की थी।

स्मृति ईरानी।
स्मृति ईरानी।

स्मृति ईरानी

भाजपा की फायर ब्रांड नेता के रूप में जानी जाने वाली स्मृति ईरानी इस बार भी यूपी के अमेठी से चुनाव लड़ रही हैं। उनका मुकाबला राहुल गांधी से है। दोनों के बीच इस सीट पर कड़ी टक्कर की खबरें सामने आ रही है। पिछली बार स्मृति ईरानी करीब एक लाख वोटो से हार गई थी। फिर बावजूद इसके वे राज्यसभा के सांसद के तौर केंद्र सरकार में एचआरडी मिनिस्ट्री की कमान संभालने का मौका मिला। इसके बाद उन्हें मंत्रिमंडल में फेरबदल के बाद उन्हें कपड़ा मंत्रालय सौंपा गया। स्मृति ने साल 2004 में पहली बार दिल्ली के चांदनी चौक से चुनाव लड़ा था। हालांकि वे इस चुनाव में कांग्रेस के कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल से चुनाव हार गई थी। बता दें कि स्मृति टेलीविजन सीरिल की सुपरस्टार रह चुकी हैं।

मुनमुनसेन और बाबुल के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है।
मुनमुनसेन और बाबुल के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है।

मुनमुनसेन

हिंदी के साथ-साथ बंगाली, तेलुगू, तमिल, कन्नड़ और मराठी फिल्मों में काम कर चुकी मुनमुन सेन को इस बार टीएमसी ने अपना उम्मीदवार बनाया है। मुनमुन आसनसोल से पार्टी की उम्मीदवार हैं। उनका मुकाबला बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो से है। उन्होंने 2014 में प्रदेश की राजनीति में कदम रखा था।

किरण खेर
किरण खेर

किरणखेर

जानी- मानी अभिनेत्री किरणखेर इस बार भी चंडीगढ़ से चुनाव लड़ रही है। चंडीगढ़ में उनका मुकाबला कांग्रेस नेता और यूपीए सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुके पवन बंसल से है। वे किरण खेर प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता भुनाकर दूसरी बार जीत का परचम लहराने के लिए बेकरार हैं। उन्होंने पिछली बार इस सीट से 69642 वोटों से जीत हासिल की थी। बता दें कि किरण अभिनेता अनुपम खेर की पत्नी हैं। वे चुनावी प्रचार के दौरान उनके पति उनके सपोर्ट में प्रचार करते दिख रहे थे।

बाबुल सुप्रियो
बाबुल सुप्रियो

बाबुल सुप्रियो

बाबुल सुप्रियो बंगाल में बीजेपी के सबसे बड़ा चेहरा हैं। वे आसनसोल से मौजूदा सांसद है। साल 2014 के दौरान उन्होने बीजेपी ज्वाइन की थी। मोदी लहर में आसनसोल सीट जीतकर उन्होंने केंद्र सरकार में मंत्री पद हासिल किया। इस बार भी वे आसनसोल से ही चुनाव लड़ रहे हैं। उनका मुकाबला टीएमसी की मुनमुनसेन से है। दोनों के बीच इस चुनाव में कड़ी टक्कर मिल रही है।

हंसराज हंस
हंसराज हंस

हंसराज हंस

सूफी गायक हंसराज हंस ने साल 2016 में भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन की थी। पार्टी ने उन्हे दिल्ली की उत्तर पश्चिम से अपना कैंडिडेट बनाया है। इस सीट पर बीजेपी से उदित राज मौजूदा सांसद है। बीजेपी ने इस चुनाव में उनका टिकट काटकर हंसराज हंस को दिया है। उनका मुकाबला कांग्रेस के महाबल मिश्रा से है। बता दे कि हंसराज हंस राज हंस ने 2009 में शिरोमणि अकाली दल से अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की थी। पांच साल बाद 2014 में हंसरास हंस ने अकाली दल छोड़ कर कांग्रेस पार्टी का दामन थाम लिया था। करीब दो साल कांग्रेस में रहने के बाद हंसराज हंस ने दिसंबर 2016 में बीजेपी ज्वाइन कर लिया था।