नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को शनिवार और रविवार को उत्तराखंड स्थित केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम की यात्रा करने के लिए पहुंच चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केदारनाथ में पूजा-अर्चना की। केदारनाथ मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद मोदी केदारनाथ क्षेत्र में बनी ध्यान गुफा में ध्यान भी करेंगे ।

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान के लिये चुनाव प्रचार करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को उत्तराखंड प्रवास पर पहुंचे । इस दौरान वह विश्वप्रसिद्ध हिमालयी धामों केदारनाथ और बद्रीनाथ के दर्शन करेंगे ।

प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) अशोक कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा के मद्देनजर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गयी है ।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने बताया कि मोदी के आगमन से उत्तराखंड की जनता और भाजपा बहुत उत्साहित है।

प्रधानमंत्री के इस दौरे का मकसद पूरी तरह से आध्यात्मिक है । इसके अलावा वह केदारपुरी में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा भी लेंगे। प्रधानमंत्री का पिछले दो साल में केदारनाथ का यह चौथा दौरा है ।

माना जाता है कि चुनाव आयोग ने यात्रा करने की अनुमति दे दी है। लेकिन साथ ही प्रधानमंत्री कार्यालय को याद दिलाया है कि लोकसभा चुनाव 2019 के लिए लागू आदर्श आचार संहिता अभी प्रभावी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ धाम में प्रवास के साथ ही बाबा केदार की यात्रा में एक नया अध्याय भी जुड़ जाएगा। यह पहला मौका है, जब देश के प्रधानमंत्री धाम में रात्रि प्रवास करेंगे। वर्ष 2015 में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने लिनचोली में रात्रि प्रवास किया था।

पीएम मोदी बाबा केदार की नगरी में रात्रि प्रवास करने जा रहे हैं। आजाद भारत के 70 वर्ष के इतिहास में यह पहला मौका है जब देश का प्रधानमंत्री यहां रात्रि प्रवास कर रहा है। बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री का यह दौरा बेहद निजी है।

जानकारी के अनुसार, प्रधानमंत्री कार्यालय ने मोदी की दो दिवसीय उत्तराखंड यात्रा पर निर्वाचन आयोग का रुख पूछा था।

पूरे मामले से जुड़े सूत्रों ने बताया कि चूंकि यह आधिकारिक यात्रा है, इसलिए आयोग ने प्रधानमंत्री कार्यालय को सिर्फ यह याद दिलाया है कि लोकसभा चुनाव की घोषणा के साथ 10 मार्च से लागू हुई आदर्श आचार संहिता अभी भी प्रभावी है।

इसे भी पढ़ें :

केदारनाथ मंदिर के खुले कपाट, ऐसा है लोगों का जुनून

बदरीनाथ धाम के  खुले कपाट, मेष लग्न में मौजूद रहे हजारों भक्त

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सातवें और अंतिम चरण का मतदान रविवार 19 मई को होना है। वोटों की गिनती 23 मई को होगी और साथ ही परिणामों की घोषणा भी होगी।

विस्तृत जानकारी दिए बगैर एक सूत्र ने कहा, ‘‘यात्रा आधिकारिक है, इसलिए यह की जा सकती है। लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय को यह याद दिलाया गया है कि आदर्श आचार संहिता अभी प्रभावी है।''

मोदी 18 मई से उत्तराखंड की दो दिन की यात्रा पर होंगे। शनिवार को वह केदारनाथ तथा रविवार को बद्रीनाथ में होंगे।