पटना: पालीगंज में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज बिहार में लोकसभा चुनाव की आखिरी चुनावी सभा को संबोधित किया और इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी भावुक नजर आए। उन्होंने लोगों से मुखातिब होते हुए कहा कि आज ये उनकी आखिरी चुनावी सभा जरूर है। अंतिम सभा में वे लोगों का आशीर्वाद चाहते हैं। हालांकि मोदी ने उम्मीद जाहिर की कि वे फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे और विकास की गंगा बहाएंगे। साथ ही एक बार फिर से जनसभा में लोगों से मुखातिब होंगे।

मोदी ने पटना के पालीगंज में बुधवार को भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस का 'नामदार' परिवार हो या फिर यहां बिहार का 'भ्रष्ट परिवार', इनकी संपत्ति आज हजारों-करोड़ों रुपये में है। आखिर ये पैसे कहां से आया? बिहार के भ्रष्ट परिवार से पीएम मोदी का सीधा मतलब लालू प्रसाग के परिवार से था।

यह भी पढ़ें:

इस मामले में पीएम नरेंद्र मोदी से आगे निकल गए राहुल गांधी, जानिए क्या है मामला

उन्होंने कहा, "अगर गरीबों की और देश की जरा सी भी परवाह होती, तो भ्रष्टाचार करने से पहले इनके हाथ कांपते।" पटना के पालीगंज में पाटलिपुत्र और पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र के राजग प्रत्याशियों के पक्ष में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने महागठबंधन को 'महामिलावटी' बताते हुए कहा कि महामिलावटी घोर नकारात्मकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा, "इनके पास दो ही मुद्दे हैं, एक मोदी की छवि को खराब करना और दूसरा मोदी को हटाना। इन महामिलावटी लोगों को हालांकि इसका एहसास नहीं है कि मोदी आज यहां पर 120 करोड़ भारतीयों के आशीर्वाद से हैं।" प्रधानमंत्री ने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा, "ये लोग अपनी जाति के दूसरे लोगों पर दबदबा बनाए रखने के लिए, जाति में जो अच्छे होनहार नौजवान थे, उन्हें भी दबंगई के रास्ते पर ले आए। नौजवानों को जाति के नाम पर भ्रमित करके, उनके कंधे पर बंदूक रखकर, इन्होंने अपने ही समाज और जाति को बंधक बना लिया।"

प्रधानमंत्री ने लोगों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा, "मुझे तो जनता में ही जनार्दन दिखाई देता है, यही कारण है कि इस पद को मैं प्रसाद मानता हूं। मुझे प्रसाद की पवित्रता बनाए रखना संस्कार में मिला है। महामिलावटी लोग तो इसे भी लालची नजरों से देखते हैं।"

उन्होंने कहा कि 2022 तक किसान की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है, अन्नदाता को सौर ऊर्जा दाता बनाने का काम हाथ में लिया है। इसके लिए बीज से बाजार तक नई व्यवस्थाएं खड़ी की जा रही हैं। उन्होंने कहा, "बिहार के गांव-गांव की उम्मीदों को, सपनों को नई ऊंचाई देने के लिए, गरीब से गरीब तक तकनीक को हम कैसे पहुंचा रहे हैं, इसका उदाहरण है डिजिटल इंडिया अभियान। राजग सरकार की नीतियों के कारण आज दुनिया में सबसे सस्ता इंटरनेट भारत में है।"

उल्लेखनीय है कि पटना साहिब और पाटलिपुत्र सहित बिहार के आठ लोकसभा क्षेत्रों में सातवें चरण के तहत 19 मई को मतदान होना है। पटना साहिब से राजग के प्रत्याशी केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद हैं, जबकि पाटलिपुत्र में केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव प्रत्याशी हैं। प्रधानमंत्री ने मंगलवार को भी बिहार में दो चुनावी सभाओं को संबोधित किया था।