इंदौर : नवजोत सिंह सिद्धू लगातार भाजपा एवं पीएम मोदी पर आक्रामक होते नजर आ रहे हैं। वह लगातार चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं और ताबड़तोड़ सभाएं कर रहे हैं और भाजपा पर लगातर अपमानजनक टिप्पणी कर रहे हैं इसी बीच इंदौर में एक सभा के दौरान उन्होंने कहा "कांग्रेस वह पार्टी ने जिसने देश को आजादी दिलाई, ये मौलाना आजाद और महात्मा गांधी की पार्टी है। उन्होंने गोरों से आजादी दिलवाई थी और तुम इंदौर वालों अब काले अंग्रेजों से इस देश को निजात दिलाओगे।"

कभी-कभी वह कांग्रेस के लिए कई बार अपनी तीखे बयानबाजी की वजह से पार्टी की मुश्किलें खड़ी कर देते हैं। इसी बीच मध्य प्रदेश के इंदौर में कांग्रेस प्रत्याशी के लिए वोट मांगने पहुंचे सिद्धू ने बीजेपी पर रंगभेदी टिप्पणी कर दी।

पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी के लिए प्रचार करने इंदौर पहुंचे थे। संघवी के खिलाफ बीजेपी ने इस सीट से शंकर लालवानी को मैदान में उतारा है। इंदौर में लोकसभा के आखिरी चरण यानी 19 मई को मतदान होगा।

इसे भी पढ़ें :

सिद्धू ने पीएम मोदी के खिलाफ की बदजुबानी, चुनाव आयोग ने भेजा नोटिस

मध्यप्रदेश के शिवपुरी में नवजोत सिंह सिद्धू ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी पर जमकर कर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मोदी को गिराना जरूरी है, क्योंकि राम नाम की लूट है लूट सके तो लूट। तीन मोदी भाग गए और चौथा बोल रहा झूंठ।

मोदी पर व्यंग करते हुए सिद्धू ने कहा कि मोदी को लगता है कि 2014 के पहले भारत था ही नहीं। एक रेलवे स्टेशन था और एक चाय की दुकान, यह तो इन्होंने खोदकर निकाला है।

सिद्धू ने कहा कि इस 5 वर्ष में देश के साथ जितना सौतेला व्यवहार हुआ, कांग्रेस सरकार आते ही सब खत्म हो जाएगा। इस सरकार ने 342 संकल्प लिए लेकिन एक भी पूरा नहीं किया. देश को गिरवी रख दिया। 64 वर्ष में इस देश पर 50 लाख करोड़ का कर्जा था और केवल इन 5 वर्षों में 32 लाख करोड़ का कर्जा और हो गया।

आपको बता दें कि इससे पहले सिद्धू पीएम मोदी को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को 'राफेल का दलाल' कहा था।