पटना: बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री रह चुके तेजस्वी यादव के बीजेपी और जेडीयू अलायंस को लेकर निशाना साधा है। दरअसल तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी जेडीयू गठबंधन लोकसभा चुनाव के बाद डायनासोर की तरह गायब हो जाएंगे। तेजस्वी यहीं नहीं रूके उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अपनी हार मान ली है। बीजेपी के राम माधव ने स्वीकार किया है कि बिना सहयोग की सरकार ही नहीं बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि महामिलावट की बात करने वाले अब गठबंधन की बात करने लगे हैं।

'शुतुरमुर्ग' हैं तेजस्वी

तेजस्वी के इस बयान पर जेडीयू ने करारा पलटवार किया है। जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा है तेजस्वी यादव को शुतुरमुर्ग बन गए है। तेजस्वी को समझ नहीं आ रहा है कि गर्दन छिपा लेने से आंधी ऊपर से थोड़े ही निकल जाएगी। आंधी में उनका सफाया हो जाएगा। ना पार्टी बचेगी और ना गठबंधन बचेगा। उन्हें पता नहीं है कि वो किसी आंदोलन के गर्व से नहीं आये हैं, ना जमीन पर उन्होंने संघर्ष किया है। वे रेड़ के पेड़ की तरह है, उनमें आंधी को रोकने का सामर्थ्य नहीं है। वो शीशम और शाकुआ नहीं है इसलिए डायनासोर हम लोगों को बनाने से पहले जमीन पर अपनी हैसियत देख ले।'

इसे भी पढ़ें

सुप्रीम कोर्ट ने तेजस्वी यादव को बंगला खाली करने का दिया आदेश, 50 हजार रुपये का लगाया जुर्माना

गौरतलब है कि मंगलवार को बीजेपी नेता राम माधव का एक बयान सामने आया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि चुनाव के बाद ऐसी परिस्थितियां बन सकती हैं जहां बीजेपी को सहयोगियों की जरूरत पड़े। इसी के बाद से विपक्ष कह रहा है कि बीजेपी खुद ही हार मान चुकी है।