आजमगढ़ : समाजवादी पार्टी के नेता धर्मेंद्र यादव ने सोमवार को दावा किया कि इस लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की जनता सपा-बसपा-रालोद गठबंधन को इतना व्यापक समर्थन दे रही है कि मायावती एवं अखिलेश यादव जिसे चाहेंगे वही देश का अगला प्रधानमंत्री बनेगा।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के प्रचार के लिए आजमगढ़ पहुंचे धर्मेंद्र ने यह भी कहा कि सपा-बसपा गठबंधन की मौजूदगी वाली सरकार बनने के बाद जाति आधारित जनगणना के आंकड़े सार्वजनिक किए जाएंगे और संख्या के अनुपात में आरक्षण सुनिश्चित किया जाएगा।

उन्होंने साक्षात्कार में कहा, ''प्रधानमंत्री को लेकर क्या फार्मूला तय होगा, वह मैं नहीं कह सकता क्योंकि इस पर फैसला हमारे शीर्ष नेता करेंगे। लेकिन इतना जरूर कहना चाहता हूं कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष और हमारी गठबंधन की नेता जिसे चाहेंगी, वही प्रधानमंत्री बनेगा।''

अखिलेश यादव के साथ धर्मेंद्र यादव (फाइल फोटो)
अखिलेश यादव के साथ धर्मेंद्र यादव (फाइल फोटो)

बदायूं से सांसद धर्मेंद्र यादव ने कहा, ''उत्तर प्रदेश की जनता व्यापक समर्थन देने जा रही है। बड़ी जिम्मेदारी से कहना चाहता हूं कि हमारे गठबंधन के सहयोग के बिना कोई प्रधानमंत्री बनने वाला नहीं है।" उन्होंने यह भी दावा किया कि भाजपा उत्तर प्रदेश में दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाएगी।

धर्मेंद्र यादव ने मोदी सरकार पर दलितों एवं पिछड़ों के आरक्षण को निशाना बनाने का आरोप लगाते हुए कहा, "सरकार बनने के बाद सबसे पहले हम लोग जाति आधारित जनगणना के आंकड़ों को सामने रखकर पूरी तस्वीर साफ करेंगे कि कितने एससी हैं, कितने एसटी हैं और कितने ओबीसी हैं?''

उन्होंने कहा, ''आंकड़े सामने आने के बाद संख्या के अनुपात में आरक्षण दिया जाएगा। अगर संख्या ज्यादा होगी तो आरक्षण का दायरा बढ़ेगा। इसमें किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए।'' यह पूछे जाने पर कि राष्ट्रवाद के मुद्दे का कितना असर है तो धर्मेंद्र ने कहा, ''जनता के बीच राष्ट्रवाद के मुद्दे का कोई असर नहीं है। लोग जानते हैं कि जो कुछ हुआ, उसमें मोदी जी का कोई योगदान नहीं है। वह हमारे जवानों का पराक्रम है।''

वाराणसी से तेज बहादुर यादव का पर्चा खारिज होने का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, ''तेज बहादुर की क्या गलती थी? सिर्फ खाने की शिकायत को लेकर बात की तो उसे बर्खास्त कर दिया गया। मोदी जी, अमित शाह और भाजपा ने साजिश के तहत हमारे इस जवान का पर्चा खारिज कराया है। मुझे लगता है कि अब तेज बहादुर ने करोड़ों दिलों में जगह बना ली है। मोदी जी को जनता जवाब देगी।''

यह भी पढ़ें :

निरहुआ ने बीच चुनाव दिया बड़ा बयान, इस शर्त पर करूंगा अखिलेश यादव का समर्थन

मायावती का बड़ा बयान, प्रधानमंत्री बनने का मिला मौका तो इस सीट से लड़ूंगी चुनाव

आजमगढ़ से अखिलेश की उम्मीदवारी के बारे में पूछे जाने पर धर्मेंद्र ने कहा, ''यहां देश की सबसे बड़ी जीत होनी चाहिए। आजमगढ़ सपा-बसपा का गढ़ है। यहां हमारा बहुत मजबूत आधार है। यह समाजवादी सोच और बहुजन विचारधारा का बड़ा किला है।''

भोजपुरी सुपरस्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ' की चुनौती के सवाल पर उन्होंने कहा, ''निरहुआ कोई चुनौती नहीं हैं। उन्हें कोई गंभीरता से नहीं ले रहा है। कलाकार होना अलग बात है, लेकिन राजनीति में उनका योगदान क्या है?"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए सपा सांसद ने कहा, " योगी जी से पूरा प्रदेश त्रस्त है। लोग इनको सबक सिखाएंगे। 23 मई को इनको अहसास होगा।''